सोनकच्छ के बहुचर्चित वीणा बघेल हत्याकांड में पति को 20 साल की सजा, ससुर और ताऊ ससुर बरी

जेल में कैद के दौरान आरोपी पति ने आत्महत्या का भी प्रयास किया था

देवास। सोनकच्छ में वर्ष 2013 में हुए वीणा बघेल हत्याकाण्ड में आज सोनकच्छ न्यायालय ने अपना फैसला सुना दिया। कोर्ट ने आरोपी पति महेंद्र सिंह पता अजीतसिंह बघेल को भादवि की धारा 302 में 20 वर्ष कारावास व दस हजार रुपए जुर्माना एवं भादवि की धारा 201 में 5 वर्ष का कारावास व दो हजार रुपए जुर्माना किया है। वहीँ महेंद्र के पिता सोनकच्छ नप के पूर्व उपाध्यक्ष अजीतसिंह बघेल और ताऊ भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष तेजसिंह बघेल को बरी किया गया है। फैसला द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश अशोक भारद्वाज की कोर्ट ने सुनाया।

मृतिका वीणा बघेल

क्या था पूरा मामला

मृतिका वीणा बघेल भाजपा नेता गौतम राजपूत की भतीजी थी। उसका विवाह सोनकच्छ नप के पूर्व उपाध्यक्ष अजीतसिंह बघेल के बेटे महेंद्र सिंह के साथ हुआ था। 2013 में वीणा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। मायके पक्ष का आरोप था कि ससुराल वालों ने वीणा के साथ मारपीट कर उसे फांसी के फंदे पर लटका दिया। अजीतसिंह बघेल, महेंद्र सिंह बघेल सहित भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष तेजसिंह बघेल पर आरोप लगे। मामले में विवेचना के पश्चात पुलिस द्वारा भादवि की धारा 302,201,498(A),304(B) के अंतर्गत ससुर अजीत सिंह बघेल,ताऊ ससुर तेजसिंह बघेल एवं पति महेंद्र उर्फ गणु बघेल के विरुद्ध प्रकरण पंजीबद्ध कर न्यायालय में प्रस्तुत किया गया था। पुलिस ने पिता पुत्र अजीतसिंह बघेल और महेंद्र सिंह बघेल को तो गिरफ्तार कर लिया था लेकिन भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष तेजसिंह बघेल को 26 फरवरी 2017 को गिरफ्तार किया था।

आरोपी पति ने आत्महत्या का भी प्रयास किया था

जुलाई 2015 में आरोपी पति महेंद्र ने जेल में पेट दर्द, उल्टी, घबराहट की शिकायत की थी। इस पर जेलकर्मी उसे जिला अस्पताल ले गए। उपचार करवाकर उसे वापस जेल में लाए। यहां गाड़ी से उतरते ही उसने एक गमछा लेकर अपने गले में डाला व दोनों हाथों से खींचकर फांसी लगाने का प्रयास किया था जिससे वह अचेत हो गया। जेलकर्मी तत्काल उपचार के लिए उसे जिला अस्पताल ले गए। यहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे एमवाय अस्पताल इंदौर रैफर किया था।  जेल में बंद रहने के कारण आरोपी महेंद्र मानसिक रूप से परेशान था। अब कोर्ट ने उसे 20 वर्ष की कारावास की सजा सुनाई है।



https://rebrand.ly/whats830a0

error: Alert: मेहनत करें कॉपी नहीं