विडियो रिपोर्ट: नौकरशाहों के नपने के बाद अब क्षिप्रा में तेजी से भरा जा रहा पानी, उज्जैन-देवास के आला अधिकारी पहुंचे क्षिप्रा डेम

मकर संक्रांति के पहले नर्मदा से क्षिप्रा को भरने की कवायद

देवास। उज्जैन में शनिश्चरी अमावस्या को शिप्रा नदी में स्नान के लिए आए श्रद्धालुओं को कीचड़ से भरे पानी से नहाना पड़ा था।  इस घटनाक्रम के बाद उज्जैन कलेक्टर मनीष सिंह और संभाग आयुक्त एम बी ओझा को हटा दिया गया था।  उनके स्थान पर नए संभाग आयुक्त अजीत कुमार और नए उज्जैन कलेक्टर शशांक मिश्रा को नियुक्त किया गया। 

office sale

उज्जैन में 14 जनवरी को मकर संक्रांति के उपलक्ष में लाखों श्रद्धालु शिप्रा नदी में स्नान करते हैं, शिप्रा नदी इस समय सूखी पड़ी है।  नर्मदा शिप्रा लिंक योजना के तहत आने वाला पानी उज्जैन तक कैसे जल्दी पहुंचे इसकी कवायद की जा रही है।  इसी के तहत संभाग आयुक्त उज्जैन अजीत कुमार, उज्जैन कलेक्टर शशांक मिश्रा, देवास कलेक्टर डॉ श्रीकांत पाण्डेय, एसडीएम् देवास जीवन सिंह रजक और अन्य अधिकारियों ने बुधवार की सुबह देवास स्थित शिप्रा डैम का अवलोकन किया। 

प्रशासन को मकर संक्रांति तक किसी प्रकार शिप्रा नदी को नर्मदा नदी के पानी से भरना है इसलिए पूरी क्षमता के साथ नर्मदा नदी का पानी पंप किया जा रहा है। अब देखने वाली बात होगी कि इस मकर संक्रांति में नए प्रशासनिक अधिकारी किस प्रकार व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से चलाते हैं। 

देखें विडियो रिपोर्ट भी