ऋण माफ़ी के लिए कण्ट्रोल रूम की स्थापना लेकिन प्रशासन ने जारी किये बंद हो चुके फ़ोन नंबर

कण्ट्रोल रूम की स्थापना की लेकिन एक भी जनपद का लैंडलाइन नंबर लगता ही नहीं

देवास। कांग्रेस की नवनिर्वाचित सरकार के लिए लगता है अब प्रशासनिक अधिकारी ही गड्ढा खोद रहे हैं। ऋण माफ़ी में परेशान किसानों की मदद के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कण्ट्रोल रूम स्थापित कर फ़ोन नंबर जारी करने के आदेश दिए थे। देवास में इस आदेश का अमल कितनी गंभीरता से हुआ है इसकी बानगी देखिए।

देवास लाइव ने सभी नंबर पर कॉल किये तो जाना की अधिकतर लैंडलाइन फ़ोन नंबर जारी किए गए जो की लगते ही नहीं है। कन्नौद खातेगांव और बागली के तो फ़ोन नंबर ही गलत होने का मेसेज सुनाई दे रहा है। सोनकच्छ में रिंग जाने पर किसी ने फ़ोन उठाया ही नहीं। देवास जिले का मुख्य नंबर लगातार बिजी बता रहा था संभवतः रिसीवर उठा कर अलग रख दिया गया था। कुल मिला कर कोई किसान फ़ोन लगा कर जानकारी लेना चाहे तो वो ले नहीं सकता। बैंकों से उसे भगा दिया जा रहा है। लिस्ट में नाम देखने और फिर फॉर्म भरने के लिए परेशानी है वो अलग।

देखिये कौन से नंबर जारी किए गए

जिला प्रशासन ने जय किसान फसल ऋण माफी योजनांतर्गत किसी भी प्रकार की शिकायत /समस्या होने पर जिलास्तर पर स्थापित कंट्रोल रूम के दूरभाष क्रमांक 07272-222060 एवं जनपद स्तर पर देवास में 07272-254907, टोंकखुर्द में 07270-270244, सोनकच्छ में 07270-222243, बागली में 07271-275426, कन्नौद में 07273-222304 एवं खातेगांव जनपद पंचायत में 07274-232719 पर प्रातः 10 से शाम 6.00 बजे तक संपर्क कर योजनांतर्गत किसी भी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

office sale