हाटपिपलिया: गाडी हटाने की बात पर हुआ था मर्डर, पांच लोगों को आजीवन कारावास की सजा

हाटपिपलिया निवासी पांच अभियुक्तों को न्यायालय ने सुनाई सजा

देवास। गाड़ी हटाने जैसी मामूली बात से शुरू हुए विवाद ने बड़ा रूप ले लिया और उसके एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। न्यायलय ने हाटपिपलिया निवासी पांच आरोपियों बाबूलाल पिता सूरजमल गामी उम्र 79, राजेन्द्र पिता बाबूलाल गामी उम्र 55, रोहन पिता राजेन्द्र गामी उम्र 32, गोलू उर्फ़ रौनक पिता राजेन्द्र पाटीदार उम्र 29, शंकर पिता बाबूलाल गामी उम्र 49 सभी निवासी महावीर मार्ग हाटपिपलिया को आजीवन कारवास और 10-10 हज़ार अर्थदंड से दण्डित किया है।

वर्ष 2012  में हाटपिपलिया के बागरी बाज़ार में सभी आरोपियों ने गाडी हटाने के विवाद में मिलकर रतन पिता मांगीलाल बागरी की मृत्यु कारित की थी। इस झगड़े में 12 बोर की बन्दूक से कई फायर किये गए थे जिसमे रतन की मौत हो गई और कई अन्य घायल हुए थे। हाटपिपलिया पुलिस ने मामला दर्ज किया था जिस पर आज न्यायलय ने फैसला सुनाया।

office sale