विडियो: सोसाइटी का सेल्स मेन निकला करोडपति, आलीशान घर महल जैसा, देखें भव्य तस्वीरें

सेवा सहकारी संस्था डिगोद के सेल्समैन बलवानसिंह सेंधव के तीन ठिकानों पर लोकायुक्त उज्जैन का छापा

देवास। शुक्रवार को देवास जिले के चापड़ा स्थित एक घर में जब लोकायुक्त पुलिस ने छापा मारा तो घर की भव्यता देख कर दंग रह गए। दरअसल यह घर के सेवा सहकारी संस्था डिगोद के सेल्समैन बलवानसिंह सेंधव का था। एक सेल्स मेन के घर में में एसोआराम के वो सभी साधन थे जो किसी करोड़पति के घर में होते हैं। (तस्वीरें देखें)

सेवा सहकारी संस्था डिगोद के सेल्समैन बलवानसिंह सेंधव के तीन ठिकानों पर लोकायुक्त उज्जैन की अलग-अलग टीमों ने शुक्रवार सुबह करीब छह बजे एक साथ छापा मारा। प्रारंभिक जांच में सेल्समैन 1.27 करोड़ की संपत्ति का मालिक निकला है। जांच में नकदी, गहने, जमीन, मकान सहित अन्य संपत्ति के दस्तावेज मिले हैं। कार्रवाई चापड़ा स्थित मकान, ऑफिस और पैतृक गांव कवड़िया में की गई। लोकायुक्त उज्जैन की टीम को आय से अधिक संपत्ति के मामले में शिकायत मिली थी। इसके बाद सुबह एक टीम डीएसपी शैलेंद्र ठाकुर के नेतृत्व में सेंधव के पैतृक गांव कवड़िया पहुंची और यहां स्थित मकान पर कार्रवाई की। दूसरी टीम ने डीएसपी वेदांत शर्मा के नेतृत्व में चापड़ा स्थित सेल्समैन के निवास और ऑफिस पर कार्रवाई की। एक टीम निवास पर रही जबकि दूसरी ऑफिस पर। चापड़ा में सेल्समैन ने आलीशान मकान बना रखा था। इसमें महंगा फर्नीचर बनाया गया था। यहां कार्रवाई दोपहर करीब एक बजे तक चली। दोपहर 12 बजे लोकायुक्त उज्जैन एसपी राजेशकुमार मिश्र भी चापड़ा पहुंचे और दस्तावेजों की जांच की। टीम ने आरोपित के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं में केस दर्ज किया है। विवेचना के बाद प्रकरण न्यायालय में प्रस्तुत किया जाएगा।

लोकायुक्त डीएसपी शर्मा ने बताया शिकायत के आधार पर आय से अधिक संपत्ति के मामले में तीन टीमों में शामिल 24 लोगों ने छापा डाला था। बलवान सिंह के निवास और ऑफिस से करीब 90 हजार रुपए, सोने-चांदी की ज्वेलरी के साथ ही स्वयं का मकान सहित अन्य संपत्ति के दस्तावेज जब्त किए हैं। सभी की कीमत करीब 1.27 करोड़ रुपए है। सेल्समैन से 75 हजार रुपए जब्त कर 15 हजार रुपए उसे खर्च के लिए दिए गए हैं। उसकी संपत्ति उसकी आय से छह गुना ज्यादा है।

डीएसपी शर्मा ने बताया कि सेल्समैन वर्ष 2002 में नौकरी पर लगा था। वेतन के हिसाब से देखा जाए तो 17 वर्षों में उसकी आय करीब 12 लाख रुपए ही बनती है। बलवान सिंह के मकान व ऑफिस से जमीन और प्लॉट की रजिस्ट्रियां भी मिली है।

देखें तस्वीरें

office sale