दुष्कर्म के आरोप में शादी के पहले दूल्हा पहुंचा जेल, नाबालिक से किया था बलात्कार

देवास/ सोनकच्छ। सोमवार को देवास में हत्या के एक मामले में दूल्हा जेल पहुंच गया था और उसकी दुल्हन तथा वकील द्वारा लाख प्रयास करने के बाद भी दूल्हे को शादी के लिए अल्प जमानत नहीं मिली थी। इसी दिन सोनकच्छ में एक और दूल्हा पुलिस हवालात में पहुंच गया। जबकि बुधवार को उसकी भी बारात जाना थी। इस दूल्हे पर हत्या का नहीं बल्कि नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने का मामला दर्ज हुआ है।

सोनकच्छ थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार समीपस्थ ग्राम जामगोद में रहने वाली 15 वर्षीय किशोरी ने अपनी मां के साथ थाने पर पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। किशोरी ने बताया कि गत वर्ष देवउठनी ग्यारस के दिन उसके माता पिता मजदूरी करने के लिए गए थे, तब वह घर के पास रहने वाली सहेली के घर टीवी देखने गई थी। इस दौरान सहेली किसी काम से गांव में चली गई, तभी उसका भाई  संदीप टीवी वाले कमरे में आया और दरवाजा बंद करके उसके साथ दुष्कर्म किया। जाते-जाते यह भी धमकी दी कि यदि किसी को बोला तो तुझे व तेरे मां-बाप को जान से मार दूंगा। किशोरी ने डर के मारे यह बात अपने परिजनों को नहीं बताई, लेकिन दो दिन पहले जब पेट में तकलीफ हुई तो उसने यह बात अपनी मां को बताई और मां उसे डॉक्टर के पास ले गई, जहां पर इस बात का खुलासा हुआ कि किशोरी गर्भवती है और उसके साथ दुष्कर्म हुआ था। इसके बाद मां के साथ थाने पहुंचकर किशोरी ने रिपोर्ट दर्ज कराई।

पुलिस ने किशोरी कर रिपोर्ट पर आरोपी संदीप पिता चंदर सोलंकी (21) के खिलाफ धारा 376 (2), 342, 506, लैगिंक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 की धारा 3-ए व 4 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि संदीप की बारात बुधवार को तीन किलोमीटर दूर ग्राम पाल्दी जाना थी, जहां वह परिणय सूत्र में बंधने जा रहा था, किंतु विवाह से एक दिन पहले ही उसके पाप का घड़ा फूट गया और घोड़ी पर बैठने के बजाय हवालात में पहुंच गया।

office sale