विडियो: बीजेपी शासन में 25-25 हज़ार देकर व्यापारी लाइसेंस दिए गए, अब किसानों का पैसा खा कर भाग रहे- राजानी

दो लाख रुपए तक का भुगतान नगद करने के निर्देश

देवास। कृषि उपज मंडी में किसानों की उपज का भुगतान न कर अब तक तीन व्यापारी भाग चुके हैं। कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में हो रहे इस घटनाक्रम को अब बीजेपी के समय का भ्रष्टाचार कहा जा रहा है। कांग्रेस शहर जिला अध्यक्ष मनोज राजनी ने अधिकारीयों की जम कर क्लास ली और किसानों को 2 लाख तक नकद भुगतान के लिए कहा।  उन्होंने बीजेपी के संरक्षण में अधिकारियों की मिलीभगत से यहां किसानों को लूटने आरोप लगाया और हालत सुधारने की मांग की। उन्होंने व्यवस्था की जांच करने आए संभागीय संयुक्त संचालक चंद्रशेखर वशिष्ठ से मंत्री सज्जनसिंह वर्मा की फोन पर बात भी करवाई। इस दौरान राजानी ने कहा आचार संहिता नहीं होती तो गला दबाकर किसानों का पेमेंट ले लेते।

दो लाख रुपए तक का भुगतान नगद करें

मंडी संयुक्त संचालक और कांग्रेस कायकर्ताओं के बीच चर्चा में कई नियमों के पालन पर बात की गई। संयुक्त संचालक वशिष्ठ ने बताया कि 200 मंडियों में भुगतान नगद किया जा रहा है। देवास में भी यही व्यवस्था लागू होगी। नियमों के मुताबिक उत्पादक को दो लाख रुपए तक का भुगतान नगद दिया जा सकता है। व्यापारी इस व्यवस्था को स्वीकार कर नगद भुगतान शुरु करें अन्यथा मंडी बंद हो जाएगी। किसानों को समय पर भुगतान मिलेगा, अच्छी सुविधा और सुरक्षा मिलेगी तो किसान यहीं आएंगे और मंडी की साख मजबूत होगी। उन्होंने मंडी सचिव कोई कई स्तर पर काम करने के निर्देश दिए।

मुख्य बिंदु जो जानना जरूरी है

  • 2 लाख रुपए तक का भुगतान होगा नगद, जो व्यापारी नहीं दे पाएं उनके लिए अगले दिन आरटीजीएस, एनईएफटी अनिवार्य
  • प्रवेश, नीलामी, निकासी पर धारा 37 (2) की जानकारी देने के लिए बोर्ड लगाकर किसानों को उसी दिन भुगतान करना अनिवार्य किया जाए।
  • हाथोंहाथ भुगतान करने को लेकर अनाउंसमेंट किया जाए।
  • व्यापारियों की सूची लगाकर प्रतिभूति राशि की जानकारी दी जाए।
  • किसानों को भुगतान नहीं हो तो उसी दिन मंडी अधिकारी को जानकारी दें। तीन दिन में जानकारी देकर शिकायत करना अनिवार्य है। जितनी जल्दी शिकायत मिलेगी, उतनी जल्दी कारवाई होगी।
  • देवास मंडी ए क्लास, तीन लाख रुपए की प्रतिभूति अनिवार्य
  • 400 के पास लाइसेंस, काम 50 कर रहे
  • दो लाख रुपए तक का भुगतान नगद के निर्देश

office sale