देवासप्रशासनिक

रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम से 200 करोड़ लीटर पानी सहेजने की मुहीम, कलेक्टर ने ली प्रेस वार्ता

क्षिप्रा शुद्धिकरण और जल संरक्षण अभियान

देवास लाइव. कलेक्टर श्री ऋषव गुप्ता ने देवास जिले में चलाए जा रहे क्षिप्रा शुद्धिकरण और जल संरक्षण अभियान की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की मंशा के अनुरूप, जिले में क्षिप्रा नदी की सफाई और शुद्धिकरण का कार्य किया जा रहा है। सिंहस्थ-2028 में शुद्ध पानी उपलब्ध हो, इसके लिए नालों का गंदा पानी रोकने हेतु स्टॉप डेम बनाए जा रहे हैं। गांव-गांव में लीच पीट सिस्टम स्थापित किए जा रहे हैं, ताकि जल संरक्षण प्रभावी रूप से हो सके।

रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

श्री गुप्ता ने रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की महत्वपूर्ण जानकारी साझा की। उन्होंने बताया कि देवास में इस सिस्टम से 200 करोड़ लीटर पानी बचाने का लक्ष्य है, जिसमें से अब तक 60 करोड़ लीटर पानी बचाया जा चुका है। उन्होंने समझाया कि एक हजार स्क्वेयर मीटर की छत से एक लाख लीटर पानी भूमि में पहुंचता है, जो जल संरक्षण के लिए अत्यंत लाभकारी है।

पौधारोपण अभियान

कलेक्टर ने बताया कि वन विभाग द्वारा जिले में 17 लाख पौधे लगाए जाएंगे। देवास में माताजी टेकरी और शंकरगढ़ पहाड़ी पर 30 हजार पौधे लगाए जाने की योजना है। नागरिकों को सस्ती दर पर पौधे उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके अलावा, सीडबॉल बनाने के लिए स्कूली बच्चों और स्वयं सहायता समूहों द्वारा 20 लाख सीडबॉल बनाने का लक्ष्य रखा गया है। पौधारोपण के लिए मियावाकी पद्धति का उपयोग किया जाएगा, जो अधिकतम वृक्षारोपण को प्रोत्साहित करेगा।

मेरा स्कूल-स्मार्ट स्कूल अभियान

श्री गुप्ता ने बताया कि जिले में ‘मेरा स्कूल-स्मार्ट स्कूल’ अभियान शत-प्रतिशत पूरा हो गया है। इस अभियान के तहत सभी स्कूलों में स्मार्ट टीवी स्थापित किए गए हैं, जिससे बच्चों की शिक्षा में सुधार और तकनीकी प्रगति को बढ़ावा मिलेगा।

सीएमएचओ कार्यालय में अनियमित भुगतान की जांच

कलेक्टर ने सीएमएचओ कार्यालय में अनियमित भुगतान की जांच के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 4 करोड़ 26 लाख 69 हजार रुपये का अनियमित भुगतान हुआ है, जिसमें 74 ट्रांजेक्शन शामिल हैं। अब तक 1 करोड़ 32 लाख रुपये की वसूली की गई है और जांच पूरी होने के बाद संबंधितों पर कार्यवाही की जाएगी।

कलेक्टर श्री गुप्ता ने कहा कि ये सभी अभियान जिले में जल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण और शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण कदम हैं। इन्हें सफल बनाने के लिए समाज के सभी वर्गों का सहयोग आवश्यक है

Sneha
san thome school
Show More
Back to top button