देवासराजनीति

वीडियो: हाटपिपलिया विधानसभा का बीजेपी कार्यकर्ता सम्मेलन संपन्न, नवरात्रि में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मंदिरों के हो सकेंगे दर्शन- सीएम

देवास। झूठ के दम पर बनी कांग्रेस की सरकार के पतन के बाद हमने किसानों के लिए जी जान एक कर दिया है। कमलनाथ सरकार ने किसानों से कर्जमाफी पर झूठ बोला और किसानों के सिर पर ब्याज की गठरी रख दी। किसानों के सिर पर रखी ब्याज की गठरी को हम फिर से उतारेंगे। यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने शिप्रा मंडल के कार्यकर्ता सम्मेलन में संबोधित करते हुए कही। सम्मेलन एबी रोड स्थित लोहारपीपल्या में आयोजित किया गया था।

भाजपा प्रवक्ता शंभू अग्रवाल ने बताया कि कार्यकर्ता सम्मेलन में शिप्रा मंडल के सभी बूथ एवं पन्ना प्रभारियों के साथ कई वरिष्ठ नेता भी उपस्थित थे। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सबसे पहले नवरात्रि में मां चामुंडा, तुलजा भवानी एवं सभी मंदिरों में दर्शन करने की छूट देने का ऐलान किया। कमलनाथ सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद थी कि वह अच्छा काम करेंगे, लेकिन उन्होंने अपने वचन नहीं निभाए। उन्होंने किसानों का 2 लाख का कर्ज माफ करने का ऐलान किया था, लेकिन बार-बार नया नया आदेश निकाल कर किसानों को ब्याज के तले दबा दिया। किसानों के सिर पर रखी ब्याज की गठरी को हम फिर से उतारेंगे। कमलनाथ पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि खोदा पहाड़ और निकली चुहिया वह भी मरी हुई, उसी चुहिया की पूंछ पकड़कर कमलनाथ जी घूम रहे हैं कि कर्जा माफ कर्जा माफ। श्री चौहान ने आंकड़े बताते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार ने किसानों की फसल बीमा की प्रीमियम तक जमा नहीं की थी, जिसे उन्होंने मुख्यमंत्री बनते ही फिर से जमा किया। किसानों को सम्मान निधि नहीं मिल पा रही थी, जिसे भी शुरू किया गया। फसल नुकसानी का आकलन भी करवाया गया है और सभी किसानों को राहत राशि मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बजट के नाम पर कमलनाथ का रोना लगातार जारी रहा। संकट में आए लोगों के काम अगर नेता नहीं आते तो क्या नेता का अचार डालेंगे? उन्होंने पूर्व की कांग्रेस सरकार को दलालों से मिलीभगत करने वाला बताया और कहा कि कमलनाथ ने वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया था। प्रदेश को कांग्रेस ने बेचा और आरोप हम पर लगाते हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं से पूरी शिद्दत से मेहनत कर सरकार को स्थायित्व देने के लिए उपचुनाव में जीत दिलाने का आह्वान भी किया।
*कांग्रेस ने चला रखा था ट्रांसफर उद्योग – श्री जिराती*
कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उपचुनाव प्रभारी व भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती ने कहा कि हमारा एक ही लक्ष्य है उपचुनाव में भाजपा सरकार को स्थायित्व देना। उन्होंने कहा प्रदेश में उपचुनाव के हालात बनाने की जिम्मेदार भ्रष्टतम कांग्रेस सरकार और उनके भ्रष्ट मंत्री रहे। प्रदेश में लगातार अराजकता का माहौल बनता गया। कांग्रेस सरकार में कांग्रेस के ही विधायकों की बात नहीं सुनी गई। झूठे वादे और वचनपत्र के झूठे वचनों से सरकार में आई कांग्रेस का दम्भ चरम पर पहुंच गया था। ट्रांसफर उद्योग चलाने वाली कांग्रेस के पाप का घड़ा भरने के कारण उनका पतन हुआ। उन्होंने कहा कांग्रेस का कोई विजन नहीं है और उनको वोट देने का कोई रीजन भी नहीं है। कार्यकर्ताओं से उन्होंने 3 नवम्बर तक सतत मेहनत करने का आह्वान किया।

सम्मेलन में भाजपा प्रत्याशी मनोज चौधरी, शिक्षा मंत्री इंदरसिंह परमार, चुनाव संचालक सुरेश आर्य, सांसद महेंद्र सोलंकी, देवास विधायक गायत्रीराजे पवार, खातेगांव विधायक आशीष शर्मा, बागली विधायक पहाड़सिंह कन्नौजे, नीमच विधायक दिलीपसिंह परिहार, आष्टा विधायक रघुनाथ मालवीय, पूर्व मंत्री दीपक जोशी, जिपं अध्यक्ष नरेंद्रसिंह राजपूत, नंदकिशोर पाटीदार, देवास महाराज विक्रमसिंह पवार, युवा मोर्चा प्रदेश महामंत्री प्रदीप नायर, पूर्व महापौर सुभाष शर्मा, रायसिंह सेंधव, पूर्व विधायक राजेंद्र भारती, राजेंद्र वर्मा, नारायण सिंह चौधरी, राजेश यादव आदि ने भी संबोधित किया। स्वागत भाषण भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव खंडेलवाल ने दिया। कार्यक्रम का संचालन बहादुर मुकाती ने किया। आभार मंडल अध्यक्ष पवनसिंह चंदाना ने माना।
*सुरेंद्र सिंह गौतम भाजपा में शामिल*
कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान ही सोनकच्छ में पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा के विधायक प्रतिनिधि रहे सुरेंद्रसिंह गौतम भी भाजपा में शामिल हो गए। श्री गौतम ने कांग्रेस के प्रत्याशी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे, जिसके बाद उन्होंने कांग्रेस पार्टी से त्यागपत्र भी दे दिया था। श्री गौतम को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंच पर बुलाकर भाजपा का दुपट्टा पहनाया और पार्टी में उनका स्वागत किया।

little cry
Sneha
sandipani
san thome school

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button