देवासप्रशासनिक

कलेक्टर ने फीवर क्लीनिक मे लापरवाही पर डॉ. संधु आर्य को किया निलंबित

  • कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला द्वारा फीवर क्लीनिक की समीक्षा बैठक, लापरवाही पर की सख्‍त कार्रवाई
  • बी.एम.ओ.सोनकच्छ, फीवर क्लीनिक प्रभारी मेडिकल ऑफिसर, पानीगांव और नेमावर को दिया शोकाज नोटिस

देवास 18 सितम्बर 2020/ कलेक्‍टर श्री चन्‍द्रमौली शुक्‍ला ने जिला चिकित्‍साल में 17 फीवर क्लीनिक में सैम्पल कलेक्शन और सार्थक पोर्टल पर एन्ट्री के कार्यो की समीक्षा बैठक ली। समीक्षा बैठक में पाया गया कि फीवर क्लीनिक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विजयागंज मण्डी मे पिछले एक सप्ताह से नियमित ओ.पी.डी और कोरोना जांच, सैम्पलिंग का कार्य अपेक्षानुसार बहुत कम होने व सार्थक पोर्टल पर एन्ट्री नही करने के कारण एवं समीक्षा बैठक मे समय पर उपस्थिति नही होने पर फीवर क्लीनिक संस्था विजयागंज प्रभारी डॉ. संधु आर्य को कलेक्टर ने तत्काल प्रभाव से निलंबित किया तथा ब्‍लाक मेडिकल ऑफिसर सोनकच्छ डॉ. आर्दश ननेरिया, फीवर क्लीनिक पानीगांव संस्था प्रभारी मेडिकल ऑफिसर डॉ. मजरूदीन कुरेशी द्वारा अपेक्षा अनुसार कार्य ना होने, सार्थक पोर्टल पर एन्ट्री ना होने नियमित, मॉनिटरिेंग ना करने के लिये शोकाज नौटिस जारी करने के निर्देश सीएमएचओ को दियें। समीक्षा बैठक मे अनुपस्थित फीवर क्लीनिक संस्था पिपलरावा प्रभारी मेडिकल ऑफिसर डॉ. राघवेन्द्र कर्णावत, फीवर क्लीनिक संस्था नेमावर प्रभारी मेडिकल ऑफिसर डॉ विपेन्द्रसिंह सोलंकी को कारण बताओ नोटिस जारी कर 03 दिवस मे जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश सीएमएचओ को दिये।
बैठक में कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने सख्‍त निर्देश दिये है कि अगर अधिकारी/कर्मचारियो कार्य मे लापरवाही करेंगे तो बक्‍शा नही जायेगा। शोकाज नोटिस के बाद भी कार्य में सुधार नही करने पर निलंबित एवं सेवा समाप्ति की कार्यवाही की जावेगी। जिले मे समस्त फीवर क्लीनिक की ओ.पीडी प्रातः 8 बजे से शाम 8 बजे तक संचालित होगा। कोरोना संदिग्ध व्यक्ति जिसको सर्दी, खांसी, बुखार ,गले मे खराश हो स्वास्थ्य जांच कर सैम्पल लिया जावे आर.ए.टी. किट से तुरन्त जांच की जावे। नियमित आर.टी.पी.सी.आर सैम्पल लिये जायेगे और सार्थक पोर्टल पर नियमित एन्ट्री करने के निर्देश दियें गयें।
कलेक्टर ने सभी बीएमओ को सख्त हिदायत दी है कि वह अपने अधीनस्थ समस्त फीवर क्लीनिक की समीक्षा करेंगे पोर्टल पर एंट्री को देखेंगे अपने क्षेत्र में फीवर क्लीनिक संचालन से संबंधित प्रचार-प्रसार की कार्यवाही निरंतर करेंगे, संस्था मे ओपीडी को अधिक से अधिक बढ़ाएंगे स्वास्थ्य संस्था मे कोरोना संक्रमित मरीजों के लिये अतिरिक्त बैड की व्यवस्था करे, कोरोना संक्रमित व्यक्ति जो होम आइसोलेशन में कोविड केयर सेंटर में है उनकी नियमित मॉनिटरिंग कर मैनेजमेंट की संपूर्ण जवाबदारी नियमित देखेंगे। शासन की गाइडलाइंस का पालन किया जावे किसी भी फीवर मैं ओपीडी और कोरोनावायरस टेस्ट कम पाया जाता है तो निश्चित ही संबंधित संस्था प्रभारी पर कार्रवाई की जाएगी।
कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला के निर्देशानुसार जिले मे 17 फीवर क्लीनिक को संचालित कर सक्रिय किया गया है साथ ही ग्रामीण क्षेत्र में कान्टेक्ट ट्रेसिंग तथा होम आईसोलेशन, संस्थागत क्वारेंटाइन को प्रोत्ससाहित किया जा रहा है। शासन के निर्देशानुसार निरंतर कोरोना संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण के लिये जिले मे कार्यवाही की जा रही है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 लाकडाउन के हटने के बाद लगातार कोरोना संक्रमण के मरीज बढ रहे है जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण के लिये लगातार कार्यवाही कर रहा है।
बैठक मे सीईओ जिला पंचायत श्रीमती शीतला पटले ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा निरंतर सार्थक पोर्टल की समीक्षा कि जा रही है। जिन फीवर क्लीनिक मे ओ.पी.डी संख्या कम है वहा पर लोगो को जागरूक करने की आवश्यकता है उन्हे कोरोन वायरस की जांच के लिये बताये अगर समय रहते जांच होगी तो सर्दी, खांसी, बुखार,गले मे खराश के कारणों का पता लगेगा और चिकित्सक उपचार करेगा। बी.एमओ, एसडीएम के साथ अपने स्तर पर नियमित समीक्षा करे, प्रतिदिन जिला स्तर से इसकी मॉनिटरिंग की जा रही है विकासखण्ड स्तर सभी विभागों के अधिकारियों के द्वारा एस.डी.एम की अध्यक्षता मे कोरोना की समीक्षा कर उचित कार्यवाही करे।

Sneha
Royal Group
royal restaurant one month 17 august
patel finance one week 24 july tak

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button

Adblock Detected

कृपया Adbloker बंद करें और क्रोम ब्राउजर मे ही ओपन करें