देवास

आसामाजिक तत्वों की अवैध गतिविधियों से परेशान वार्ड 19 अर्चना विहार के कालोनीवासी, करते है शराबखोरी

देवास। आसामाजिक तत्वों की अवैध गतिविधियों से परेशान होकर अर्चना वार्ड क्रं. 19 अर्चना विहार कालोनी के लगभग 40 महिला-पुरूष मंगलवार जनसुनवाई में पहुंचे और अवैध कार्यवाही पर रोकथाम लगाने हेतु आवेदन सौंपा। क्षेत्रवासी कपिल परमार ने बताया कि वार्ड 19 स्थित अर्चना विहार कालोनी में रहते है। जहां करीबन 20 से 25 परिवार अपने मकानों में निवास करते है। कालोनी के चारों ओर बाउण्ड्रीवाल भी बनी हुई है। साथ ही रहवासियों के आने- जाने के लिए बड़ा गेट भी है।

कालोनी के पीछे वर्षो पुरानी झुग्गी झोपड़ी निर्मित है। विगत दिनों से झुग्ग झोपड़ी में रहने वाले कुछ आसामाजिक तत्वों द्वारा कालोनी में बने मंदिर के पीछे वाली दीवार में तोडफ़ोड़ कर अस्थाई रास्ता बना लिया गया, जिस कारण कई आसामाजिक तत्वों व अन्य लोगों का कालोनी में आना-जाना शुरू हो गया। जिससे कभी भी लड़ाई-झगड़े का भय लगा रहता है। झुग्गी झोपड़ी के लोगों द्वारा काफी समय से अवैध रूप से शराब भी बेची जा रही है। शराब पीकर खाली क्वाटर व बोतले कालोनी में फेंक देते है, जिससे कालोनी में स्थित मंदिर की पवित्रता भंग हो रही है। कालोनीवासियों द्वारा मना करने पर ये लोग लड़ाई के लिए उतारू हो जाते है।

मंदिर के उद्यान भी है, जहां कालोनी के बच्चे खेलते रहते है। शराब की काँच की बोतले पेरो में घुस जाती है। झुग्गीवासियों की गतिविधियों के कारण कालोनी के मंदिर में चोरी होना, गाडिय़ों में नुकसान आदि बड़ गई है। जिससे कालोनीवासी काफी दिनों से परेशान है। यहां तक की झुग्गीवासियों की महिलाएं अपने घरों का कचरा कालोनी की बाउंड्री पर फेंक देते है। जिससे कालोनी में कचरा फैल जाता है। रहवासियोंं ने औद्योगिक थाने में भी शिकायत की, लेकिन स्थाई निराकरण नही हो पाया।

कालोनीवासियों ने मांग की है कि किसी प्रकार की अप्रिय घटना न हो इसके पूर्व झुग्गीवासियों को समझाईश दी जाकर अवैध गतिविधियों पर रोक लगाई जाए। जिससे हम कालोनीवासी सामान्य तरीके से जीवन जी सके। इस दौरान प्रवाल कुशवाह, अजय सूर्यवंशी, गौरव जैन, निवास माने, मोहन कुशवाह, नीरज कुशवाह, पंकज, सीमा कामदार, आदित्य पंडित, वैशाली माने, निशा कुशवाह, मनोरमा, निर्मला व्यास, सलोनी, नेहा जैन, सुमिता दीक्षित, भक्ति सूर्यवंशी, नित्या गोयल, निशा यादव सहित बड़ी संख्या में कालोनीवासी उपस्थित थे।

Sneha
san thome school
Back to top button