अपराधदेवास

IPL का आठ लाख का सट्टा खाते पकडाया प्राेव्हिजन दुकान संचालक, बड़ी मछलियाँ अभी भी पकड़ से दूर

देवास लाइव। आईपीएल के शुरू होते ही सट्टा खाने वालों का कारोबार शुरू हो जाता है।  देवास में भी आईपीएल के नाम पर बड़े-बड़े खाईवाल हैं।  इन लोगों ने अपना जाल पूरे शहर में छोटी-छोटी दुकानों तक फैला रखा है, जहां पर छोटे खाईवाल सट्टा लिखते हैं और बड़े खाईवाल तक पहुंचा देते हैं।  कोतवाली पुलिस ने ऐसे ही एक छोटे खाईवाल को पकड़ा है, जिसके पास से आठ लाख का हिसाब किताब मिला है। लेकिन पुलिस सिर्फ छोटे खाई वालों को गिरफ्तार कर वाहवाही लूट रही है, जबकि बड़े खाईवाल आराम से अवैध व्यापार कर रहे हैं।  साफ है कि इनके साथ पुलिस की सांठगांठ है।

 शनिवार रात में चैन्नई सुपर किंग्स व राॅयल चैलेंजर बैंगलुरू का मैच चल रहा था। इस मैच में जीत-हार, हर गेंद पर शाॅट, ज्यादा चाैके, छक्के लगाने और खिलाड़ी के आउट हाेने तक के सट्टे लगाने की सूचना पर काेतवाली पुलिस ने घेराबंधी कर आराेपी काे दबाेच लिया।

काेतवाली थाना टीआई उमरावसिंह ने बताया थाने पर शनिवार रात मुखबिर से सूचना मिली कि अमृत नगर में जानकी प्राेव्हिजन दुकान पर रात 7.30 बजे आईपीएल क्रिकेट मैच की जीत-हार का सट्टा चल रहा है। इस पर टीम काे भेजा और सट्टा चलाते आराेपी अजय नवलानी धराया। वह अपने मोबाइल पर सट्टा संचालित कर रहा था। उसके कब्जे से एक स्मार्टफोन, 1 एलईडी, 13 हजार 200 रु. नकद, 1 रजिस्टर जिस पर 8 लाख का हिसाब-किताब लिखा था, जिसे जब्त किया गया।

अभी मुख्य आरोपी दुर्गेश उर्फ दीपू निवासी इटावा पकड़ से बाहर है। उसके पास से ज्यादा पैसा और सामग्री जब्त हाेगी। पकड़े गए आरोपी अजय से पूछताछ जारी है, उसके मोबाइल से रिकॉर्ड निकाला जा रहा, जाे आराेपी दुर्गेश काे मोबाइल पर सट्टा उतारता था।

Sneha
san thome school
ias academy
sandipani
little cry

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button