देवासराजनीति

कम्पनी द्वारा 12 घंटे काम कराकर सिर्फ 8 घंटे का ही वेतन दिया जा रहा

 

श्रमिकों पर हो रहे शोषण के विरोध मे बसपा ने सौंपा ज्ञापन 


देवास। बहुजन समाज पार्टी ने अमोना में स्थित कम्पनी द्वारा श्रमिकों से ज्यादा काम लेकर ओव्हर टाईम के रूपये नही देने एवं पूर्ण रूप से शोषण करने के विरोध में जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। जिलाध्यक्ष दरियाव सिंह मालवीय ने बताया कि अमोना ए.बी. रोड़ पर स्थित जिल लाईप, साइसेज प्रा.लि. कम्पनी के कई ऐसे श्रमिक है जो विगत 10-15 वर्षों से कार्य करते आ रहे हैं। कुछ माह से कम्पनी के श्रमिकों से अब 8 घंटे की बजाय 12 घंटे काम लिया जा रहा है। लेकिन श्रमिकों को सिर्फ 8 घंटे के ही पैसे दिए जा रहे है। 4 घंटे ओवरटाइम का पैसा नहीं दिया जा रहा है। ओवरटाइम के पैसे की मांग करते है तो हमें काम से बंद करने की धमकी देते है। इस तरह से कंपनी के द्वारा हम गरीब श्रमिकों का शोषण किया जा रहा है। महिला कर्मचारी को 190 रुपये प्रतिदिन के मान से वेतन दिया जा रहा है और पुरुषो को 300 रुपये के मान से दिया जा रहा है, जबकि नियम यह हैं कि यदि 12 घंटे कोई मजदूरी कार्य करता है तो उसकी मजदूरी 502 रुपये होती है चाहे वो महिला हो या पुरुष इस प्रकार से कंपनी के अधिकारीगण हम लोगो से गुलामों की तरह काम करवा रहे है। कम्पनी द्वारा मजदूरों को 26 जनवरी व 15 अगस्त पर छुट्टी भी नही दी जाती। कंपनी में कार्य करते समय श्रमिक आनंद मालवीय का मशीन में हाथ कट गया है। उसे कंपनी द्वारा किसी भी प्रकार की सहायता राशि नहीं दी गयी है और ना ही उसका इलाज करवाया गया। तथा आज उसका परिवार भूखा मरने की स्थिति में आ गया है व उसे काम से भी बंद कर दिया है। पीड़ित मजदूर किराये के मकान में अपने बूढे-माता पिता के साथ रहता है व उसके परिवार में कोई भी व्यक्ति कमाने वाला नही है। कम्पनी से मजदूरों को स्थाई करने की मांग की गई, लेकिन प्रबंधन ने मना कर दिया। कम्पनी द्वारा श्रमिकों को समय पर वेतन भी नही दिया जाता। 20-25 तारीख के मध्य वेतन डाला जाता है। ऐसी स्थिति में बाकी दिनों में हमारा परिवार भूखा मरने की स्थिति निर्मित हो जाती है। श्रमिको के साथ 7-8 लोग विकलांग श्रमिक भी है उनसे भी खड़े-खड़े, लोडिंग-अनलोडिंग 12 घंटे सतत रूप से काम लिया जाता है। इस प्रकार से कंपनी के द्वारा हम श्रमिकों का खुलेआम शोषण किया जा रहा है। बहुजन समाज पार्टी व श्रमिकों ने जिला कलेक्टर से मांग की है कि कम्पनी प्रबंधन पर कार्यवाही की जाए या फिर उनके द्वारा बनाए गए नियमों में संशोधन किया जाए। इस दौरान शहर अध्यक्ष ईश्वर मालवीय, मदनलाल पहलवान, राजेश नागर, प्रकाश चंद्र मालवीय, अमर ठाकुर, किशोर मालवीय, प्यारेलाल बंजारे, प्रहलाद सिंह पवार, मोहन सिंह चौहान, इंदर सिंह ठाकुर सहित श्रमिक उपस्थित थे। 

Sneha
Royal Group

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button

Adblock Detected

कृपया Adbloker बंद करें और क्रोम ब्राउजर मे ही ओपन करें