देवासप्रशासनिक

ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा संक्रमण फैला तो गांव की सीमाएं सील करने और 24 घंटे में कोविड-19 की रिपोर्ट देने के निर्देश

कोविड-19 की रिपोर्ट 24 घंटे में उपलब्ध कराएं- कलेक्टर
———-
कुंभ मेले से वापस आये व्यक्तियों की सूची तैयार कर जिला मुख्यालय भेजें
——
कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने वीसी के माध्यम से अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, सीईओ जनपद एवं चिकित्सकों की बैठक ली
————-
देवास 01 मई 2021/ ग्रामीण क्षेत्रों में जहां अधिक संक्रमण दिखें वहां की सीमाएं सील करें, जिससे की संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके। सैम्पलिंग टीम लगातार सैम्पल लें। प्रारम्भिक लक्षण वाले लोगों को भी दवाईयों की किट का वितरण किया जाए। इसका कढ़ाई से पालन कराया जाएं। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने आज कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में कोविड-19 के संबंध में समीक्षा बैठक दिए। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्री प्रकाश सिंह चौहान, एडीएम श्री महेंद्रसिंह कवचे, सीएमएचओ डॉ. एमपी शर्मा सहित अन्य संबंधित उपस्थित थे। बैठक में जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार, सीइओ जनपद पंचायत, बीएमओ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सहभागिता की।

कुंभ से लौटे यात्रियों की सूची तैयार कर जिला मुख्यालय भिजवाएं
कलेक्टर श्री शुक्ला ने बैठक में कहा कि कुंभ से लौटे व्यक्तियों की सूची तैयार करें तथा सूची को जिला मुख्यालय पर भिजवाएं। उन्होंने यह भी कहा है कि प्रवासी मजदूरों की पोर्टल पर एंट्री कराई जाए। कलेक्टर श्री शुक्ला ने कहा है कि आगामी दिनों में जिन-जिन परिवारों में विवाह होना है, उनकी सूची तैयार कर ले। बैठक में कलेक्टर श्री शुक्ला ने कहा कि एसडीएम अपने क्षेत्र में ज्यादा मरीज होने पर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने के निर्देश भी जारी करें।

कोविड-19 की रिपोर्ट 24 घंटे में दें-कलेक्टर
बैठक में कलेक्टर श्री शुक्ला ने निर्देश दिए कि ब्लॉक स्तर पर कोविड-19 सेंटर में कम से कम 8 से 10 ऑक्सीजन के सिलेंडर भरे हो यह सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन की उपलब्धता हमेशा बनी रहे। उन्होंने कोविड-19 की रिपोर्ट (आरटी पीसीआर) टेस्ट की रिपोर्ट 24 घंटे में ही दिए जाने के निर्देश भी दिए। उन्होंने सभी बीएमओ को निर्देश दिए कि फीवर क्लिनिक प्रातः 8:00 से दोपहर 3:00 बजे तक संचालित करें। बीएमओ सतत भ्रमण करें। सभी बीएमओ यह भी सुनिश्चित करें कि क्षेत्रों के सैंपल किसी भी स्थिति में शाम तक जिला मुख्यालय भिजवाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि सैंपल लेते समय पूरा पता लिखें, मोबाइल नंबर सही-सही लिखे यह सुनिश्चित कर चेक करें।

किल कोरोना अभियान-2 की मॉनिटरिंग करें
बैठक में कलेक्टर श्री शुक्ला ने निर्देश दिए कि जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी एवं सीईओ जनपद पंचायत सर्वे टीमों की मॉनिटरिंग करें। उन्होंने निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में प्रारंभिक लक्षण होने पर चिन्हांकन वाले व्यक्तियों को क्वारंटाइन सेंटर में लाएं। ग्राम पंचायत में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती करें तथा उनका उपचार प्रारंभ करें। उन्होंने एसडीएम एवं सीईओ जनपद पंचायतों को निर्देश दिए कि किल कोरोना अभियान को सतत मॉनिटरिंग करे।

फीवर सर्वे का कार्य गंभीरता से करे
बैठक में कलेक्टर श्री शुक्ला ने निर्देश दिए कि सर्वे दल सर्वे का कार्य गंभीरता से करें। उन्होंने कहा है कि सर्वे टीम घर-घर जाकर पूछताछ करें कि परिजनों में स्वास्थ्य संबंधी कोई परेशानी तो नहीं आ रही है, उसकी जानकारी लें। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रारंभिक लक्षण वाले सभी होम आइसोलेशन वाले मरीजों को दवाई की किट प्रदान करें। इसमें कोई भी कोताही ना बरतें। कहीं भी दवाई की कमी हो तो इसका डिमांड तुरंत सीएमएचओ को भेजें तथा दवाई मंगवाए। दवाई वितरण में ढिलाई ना बरतें। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि फीवर क्लीनिक में सैंपल कराने वाले को भी दवाई की किट दी जाए। फीवर सर्वे में प्रारंभिक लक्षण पाए जाने वाले को दवाइयां दें।

कोरोना कर्फ्यू का पालन करवाएं
बैठक में कलेक्टर श्री शुक्ला ने कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि रोको-टोको अभियान सतत चलाएं। लोगों को मास्क पहनने, सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के लिए भी निर्देशि किया। उन्होंने कोविड केयर संचालित की व्यवस्थाओं, भर्ती मरीजों के संबंध में भी समीक्षा की।

royal restaurant one month 17 august
Sneha
Royal Group
patel finance one week 24 july tak

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button

Adblock Detected

कृपया Adbloker बंद करें और क्रोम ब्राउजर मे ही ओपन करें