देवासप्रशासनिक

तीसरी लहर को रोकने की कवायद, सैंपलिंग और कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के आदेश, अब सख्ती बढ़ेगी

कलेक्टर श्री शुक्ला की अध्यक्षता मे संभावित तीसरी लहर के संक्रमण एवं बचाव के संबंध स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित

…….

आरआरटी टीम निर्धारित लक्ष्य के अनुसार करे सेंपलिंग – कलेक्टर श्री शुक्ला

———–

कोरोना की संभावित तीसरी लहर को रोकने के लिए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की पूर्ण तैयारी आवश्यक

———-

 देवास. कलेक्ट्रेट सभागृह में कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला की अध्यक्षता मे कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर के संक्रमण एवं बचाव के संबंध में बैठक आयोजित हुई। 

बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री प्रकाश सिंह चौहान, एडीएम श्री महेंद्रसिंह कवचे,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री मनजीत सिंह चावला,एसडीएम सोनकच्छ सुश्री शिवानी तरेटिया, ट्राफिक डीएसपी श्री किरण शर्मा, सीएसपी श्री विवेक सिंह चौहान, सीएमएचओ डॉ एमपी शर्मा, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ कैलाश कल्याणी, शहरी नोडल अधिकारी ,समस्त ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर, सहित स्वास्थ्य विभाग के जिला अधिकारी, आरआरटी टीम के चिकित्सक ,स्टाॅफ उपस्थित रहा।

    बैठक में कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए कोरोना के संक्रमण एवं बचाव के लिए आवश्यक निर्देश दिए।

      कलेक्टर श्री शुक्ला ने बैठक में निर्देश दिए कोरोना की संभावित तीसरी लहर के संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की पूर्ण तैयारी आवश्यक है। बैठक में आरआरटी टीम के चिकित्सक स्टाफ द्वारा लिए जा रहे सैंपल की लक्ष्य के अनुसार समीक्षा की गयी । अधिकांश टीमों के द्वारा आर.टी.पी.सी.आर. के सैंपल टारगेट अनुसार नहीं लेने पर उन्हें चेतावनी दी कि एक सप्ताह के अंदर निर्धारित लक्ष्य के अनुसार सेंपलिंग की जाए अन्यथा सेवा समाप्त की कार्रवाई की जावेगी। प्रतिदिन लिए जाने वाले सैंपल में आर. ए.टी.के साथ-साथ 40 प्रतिशत आरटीपीसीआर सैंपल भी लिया जाना है जिले को दिए गए निर्धारित लक्ष्य 2500 से 3000 सैंपल प्रति दिवस लिया जावे जिसमे 1100 से 1200 के लगभग आरटीपीसीआर के सैंपल लेने के निर्देश दिए। बैठक की सूचना होने के पश्चात भी बैठक में अनुपस्थित चिकित्सक ,स्टाफ तथा 30 जुलाई को जिस टीम ने शुन्य सैंपल की रिपोर्ट भेजी है उन्हें शोकॉज नोटिस जारी कर जवाब मांगा जाए। जो टीम निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण नहीं करेगी उनकी सेवा समाप्त कर अन्य व्यक्तियों की नियुक्ति करने के संबंध में सीएमएचओ को निर्देश दिए। संभावित तीसरी लहर को देखते हुए आसपास के जिलों से आने वाले व्यक्तियों का पुलिस प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा संयुक्त रूप से टीम बनाकर एंट्री पॉइंट पर सैंपल लिया जावे बस स्टैंड रेलवे स्टेशन पर काउंटर लगाये जाए। अगर कोई व्यक्ति पॉजिटिव आता है तो कांटेक्ट ट्रेसिंग की जाए।

      कोविड-19 वैक्सीनेशन कार्यक्रम में अधिक संख्या में लोग टीका लगाने पहुंच रहे हैं इसलिए उन्हें पर्याप्त सुविधा उपलब्ध कराए जाने के लिए पुलिस प्रशासन एवं समस्त विभाग द्वारा विशेष रणनीति पर काम करने के निर्देश दिए जहां पर भी वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं टीकाकरण प्लान 400 से कम डोज का प्लान ना करें निरंतर वैक्सीनेशन साइट की मॉनिटरिंग करें ,जीरो वेस्टेज पॉलिसी पर कार्य करें अधिक से अधिक लोगों को टीका लगाया जाए जिले में वैक्सीनेशन की स्थिति अन्य जिलों के मुकाबले बहुत बेहतर है । शासन द्वारा स्कूल प्रारंभ किए गए हैं जिन स्कूलों में वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं वहां के प्राचार्य से उसे बात कर वैक्सीनेशन सेंटर चालू रखें या बंद कर उनके स्थान पर क्षेत्र के मैरिज गार्डन यह कम्युनिटी हॉल में वैक्सीनेशन सेंटर बनाया जा सकता है के संबंध में निर्देश दिए।

    कलेक्टर शुक्ला ने कहा कि तीसरी लहर से निपटने के लिए हमें अच्छी सैंपलिंग करनी होगी वैक्सीनेशन शत प्रतिशत हो इसके लिए निरंतर प्रयास करे, कांटेक्ट ट्रेसिंग एवं लोगों में जागरूकता हेतु मास्क को अनिवार्य लगाने के लिए, अनुकूल व्यवहार अपनाने के लिए कार्य करे, अभी अधिकतर लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं। जिलेवासियों को ध्यान देने की बात है कि हम ही तीसरी लहर को आमंत्रित कर रहे हैं यह बहुत तेजी से फैल सकती है सभी को मास्क लगाना अनिवार्य है, 2 गज की दूरी का पालन करे, पुलिस प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा धार्मिक स्थानों सार्वजनिक स्थानों जहां पर भी भीड़ एकत्रित हो रही है वहां पर कड़ाई से पालन करवाये, जुर्माने की कार्रवाई एवं सैंपल लिए जावे एडीएम, एएसपी और सीएमएचओ को इस संबंध में निर्देश दिए।

   कोविड-19 संभावित लहर को देखते हुए जिला स्तर एवं ब्लॉक स्तर पर कोविड-19 अस्पतालों में 20-20 बेड अनुसार आवश्यक दवाइयों ,उपकरणों की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करें। अगर कोई व्यक्ति पॉजिटिव संक्रमित होता है तो उसे होम आइसोलेशन ना करते हुए तत्काल कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कर उपचार किया जाए। जिला अस्पताल में भारत सरकार द्वारा स्वीकृत ऑक्सीजन प्लांट का इंस्टालेशन शीघ्र पुर्ण करने की कार्यवाही करे। सभी को निर्देश दिया कि जिले के प्राइवेट संस्था संस्थाओं में निजी नर्सिंग होम निरंतर निगरानी रखें कोई भी संदिग्ध कोरोना संक्रमित व्यक्ति उपचारित है तो शासन से प्राप्त गाइडलाइन अनुसार आवश्यक कार्रवाई करे।

Royal Group
Sneha

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button

Adblock Detected

कृपया Adbloker बंद करें और क्रोम ब्राउजर मे ही ओपन करें