देवासराजनीति

विद्युत संबंधी परेशानियों को दूर करने की मांग को लेकर के शिवसेना ने विद्युत यांत्रिकी को सौंपा ज्ञापन ज्यादा रीडिंग के बिजली बिल आने से शहर की जनता परेशान- शिवसेना

देवास। विद्युत संबंधी परेशानियों को दूर करने की मांग को लेकर के शिवसेना ने विद्युत यांत्रिकी को सौंपा ज्ञापन। जिला महासचिव सुनील वर्मा ने बताया कि शिवसेना का प्रतिनिधिमंडल युवा सेना जिलाध्यक्ष तरुण देशमुख के नेतृत्व में जिला विद्युत यांत्रिकी अमित सक्सेना व शहर विद्युत यांत्रिकी कुमरावत जी से मुलाकात की।
वह वर्तमान स्थिति में शहर की जनता के सामने जो विकट परिस्थिति विद्युत मंडल के माध्यम से खड़ी हुई है। उसे दूर करने की मांग करते हुए बताया कि लॉकडाउन के कारण पूरे शहर में आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह से बंद पड़ी हुई है। यहां तक की देवास उद्योग की नगरी है, लेकिन यहां कहीं उद्योग भी बंद पड़े हुए। सबसे गरीब तबके का परिवार अपने मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का पालन पोषण करता है। कई परिवार जो ट्रांसपोर्ट जैसे बस, मैजिक व अन्य चला कर अपने परिवार का पालन पोषण करता है, लेकिन यह सब अभी बंद होने के कारण वह आर्थिक रूप से कमजोर हो चुका है। यहां तक कि वह अपने परिवार का पालन पोषण तक भी नहीं कर पा रहा है। दूसरी तरफ मध्यप्रदेश सरकार की गलत नीतियों के कारण उन्हें कहीं परेशानी झेलना पड़ रहा है, विद्युत संबंधित नियमों में शिवराजसिंह चौहान द्वारा जो दिशानिर्देश जारी किए जाते हैं। वह भी केवल दिखावा से होते हैं। विद्युत मंडल वर्तमान स्थिति में बारिश के समय बिजली बिल जमा नहीं होने का कारण बकायेदारों की बिजली कनेक्शन काट रहा है। विकट परिस्थिति में उचित नहीं है। बारिश में अंधेरे में रहना उन परिवार को बहुत मुश्किल है और शहर में आम जनता के बीच में चर्चा का विषय है कि लॉकडाउन के बाद में बिजली के मीटर ने रफ्तार पकड़ ली है। अत्यधिक खपत बढ़ाती जा रही है। जिसके कारण भी एक तरह से उपभोक्ताओं में भय का माहौल है।  इन सब परेशानियों को दूर करने की मांग को लेकर के शिवसेना जिलाध्यक्ष रोहित शर्मा के निर्देश पर विद्युत मंडल के अध्यक्ष मंत्रियों को यह ज्ञापन सौंपा। इस संबंध में जल्द से जल्द उचित निर्णय लेकर वर्तमान स्थिति में राहत स्वरूप में बिजली कनेक्शन नहीं काटने की मांग की। वही बढ़ती हुई रिडिंग को लेकर भी उचित जांच करने की मांग की। जानकारी शिवसेना जिला प्रचार प्रमुख रत्नेश गुप्ता ने दी।
san thome school
Sneha

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button