अपराधदेवासपुलिसप्रशासनिकसोनकच्छ

वीडियो: फिल्मी स्टाइल में पुलिस की गाड़ी को टक्कर मारी, रिवाल्वर तानी और लड़की को छुड़ा ले गए, अब आठ गिरफ्तार

 

  • गुमशुदा लड़की को परिजन मारपीट कर पुलिस से छुड़ा ले गए, आरोपी आबकारी सब इंस्पेक्टर समेत आठ आरोपियों को जेल भेजा, महिला डीएसपी की भी संदिग्ध भूमिका
  • गुमशुदा लड़की को पुलिस से छुड़ाने वाले ৪ आरोपी पहुंचे जेल, दो वाहन और रिवॉल्वर जब्त
  • शुक्रवार रात में भौंरासा थाना परिसर में लड़की के परिजनों ने मनमर्जी से शादी करने पर किया था हंगामा

देवास लाइव। शुक्रवार रात में भौरासा थाना क्षेत्र के तहत एक गुमशुदा लड़की की तलाश कर उसे थाने लाते समय पुलिस व लड़की के परिजनों में जमकर विवाद हुआ इस दौरान एक दूसरे पर बंदूक भी तान दी गई। यही नहीं जिस कार से पुलिस लड़की को लेकर आ रही थी उस कार को टक्कर मारकर क्षतिग्रस्त कर दिया गया। 

पुलिस अधिकारी के साथ मारपीट कर उन्हें रिवॉल्वर से धमकाया गया। इस घटनाक्रम में भोपाल में पदस्थ एक महिला डीएसपी की भी भूमिका बताई जा रही है लेकिन उन्हें आरोपी नहीं बनाया गया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भौरांसा की रहने वाली लड़की 22 जुलाई को घर छोड़कर चली गई थी जिस पर पुलिस ने गुम इंसान कायम किया था। लड़की ने वहीं के रहने वाले बालकृष्ण उर्फ रितेश पिता हेमराज पांचाल से प्रेम विवाह कर लिया था। जिसके बाद दोनों युवक युवती भौरांसा थाने के एएसआई पूनम चंद साहू से फोन पर संपर्क में थे। अनहोनी के डर से दोनों पुलिस के सामने पेश होना चाहते थे। शुक्रवार की रात को करीब 9 बजे एएसआई पूनम चंद साहू अपने निजी वाहन से दोनों युवक युवती को खटांबा की दरगाह के पास से लेकर जब वापस लौट रहे थे। उसी दौरान उनकी कार पर बोलेरो ने टक्कर मारी। एक अन्य कार ने भी उनकी कार को टक्कर मारी जो कि भोपाल में पदस्थ एक महिला डीएसपी की बताई जा रही है। इसी दौरान लड़की के रिश्तेदार आबकारी उप निरीक्षक कैलाशचंद्र पिता गणपतलाल रोईवाल ने रिवाल्वर तानकर पुलिस को धमकाया और मारपीट कर लड़की गायब कर दी गई।

शनिवार को पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों में एक इंदौर आबकारी विभाग निरीक्षक भी शामिल है। भोपाल की महिला डीएसपी को मामले में आरोपी नहीं बनाया गया।

फरियादी एएसआई पूनमचन्द्र साहू की रिपोर्ट से मामले में आरोपी महेन्द्र पिता अंबाराम कुमावत, जगदीश पिता भैरूलाल कुमावत, सुनील पिता बिहारीलाल कुमावत, मुकेश पिता भैरूलाल सभी निवासी कुमावतपुरा भौरासा, जितेन्द्र पिता बापूलाल कुमावत निवासी न्यू देवास, कुन्दन पिता कैलाशचंद्र निवासी मिश्रीलाल नगर देवास, जीवन पिता अनोखीलाल निवासी डकाच्या देवास व कैलाशचंद्र पिता गणपतलाल रोईवाल निवासी शासकीय क्वार्टर आबकारी वृत्त इन्दौर को गिरफ्तार किया। इनके खिलाफ केस दर्ज कर सोनकच्छ कोर्ट में पेश किया, जहां से सभी को जेल भेज दिया है।

पुलिस ने बिना नंबर की बोलेरो व एक रिवाल्वर 6 राउंड जिंदा कारतूस भी जब्त किए है।


Sneha
Royal Group

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button

Adblock Detected

कृपया Adbloker बंद करें और क्रोम ब्राउजर मे ही ओपन करें