देवासप्रशासनिक

शहर के आस पास 32 गांव मास्टर प्लान में जुड़ेंगे, आपत्ति और सुझाव आमंत्रित किए गए


 देवास वर्धित निवेश क्षेत्र में सम्मिलित 32 ग्रामों के वर्तमान भूमि उपयोग संबंधी मानचित्रों की प्रति 17 अक्‍टूबर तक अवलोकन के लिए रहेगी उपलब्‍ध

जन सामान्‍य अपनी आपत्ति/सुझाव प्रदर्शनी स्‍थल पर प्रस्‍तुत कर सकेंगे

     देवास। उप संचालक नगर तथा ग्राम निवेश देवास अनिता कुरोठे ने जन सामान्‍य की जानकारी के लिए सूचित किया है कि कार्यालय उपसंचालक नगर तथा ग्राम निवेश जिला देवास द्वारा देवास वर्धित निवेश क्षेत्र में सम्मिलित 32 ग्रामों (सिया, दुर्गापुरा, अमरपुरा, गद्दुखेडी, खटाम्‍बा, सतबर्डी, खेताखेडी, बलोदा, नागदा, पालनगर, अनवटपुरा, सुनवानी महाकाल, सुकल्‍या क्षिप्रा, अलीपुर, लोहार पिपल्‍या, टुमनी, गदईसापिपल्‍या, आजमपुर सुतारखेडा, चंदाना, छायन, मुंगावदा, सिंगावदा, भीमसी, करनाखेडी, खजुरिया, मुकुंदखेडी, निपानिया, बोरखेडी धाकड, राजपुरा, लसुडिया नजदीक, भानगढ और अमलावती) के वर्तमान भूमि उपयोग संबंधी मानचित्रों का प्रकाशन मध्‍य प्रदेश राजपत्र दिनांक 17 सितम्‍बर 2021 को नगर तथा ग्राम निवेश अधिनियम-1973 की धारा-15(1) तहत किया गया है।

     देवास वर्धित निवेश क्षेत्र में सम्मिलित 32 ग्रामों के वर्तमान भूमि उपयोग संबंधी मानचित्रों की एक प्रति 17 अक्‍टूबर 2021 तक कार्यालयीन समय के दौरान (अवकाश के दिनों को छोडकर) कार्यालय संभागीय आयुक्‍त उज्‍जैन संभाग उज्‍जैन, कलेक्‍टर कार्यालय जिला देवास, कार्यालय आयुक्‍त नगर पालिक निगम देवास तथा कार्यालय उप संचालक नगर एवं ग्राम निवेश देवास में अवलोकन के लिए उपलब्‍ध रहेगी। जन सामान्‍य अपनी आपत्ति/सुझाव प्रदर्शनी स्‍थल पर प्रस्‍तुत कर सकेंगे।

Sneha
san thome school

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button