देवासधर्म संकृति

सद्गुरू शीलनाथ महाराज की प्रतिमा का चार दिवसीय प्राण प्रतिष्ठा समारोह आज से होगा प्रारंभ, वियतनाम के पत्थर से निर्मित है प्रतिमा

 

समारोह की तैयारियां पूर्ण, कोरोना के कारण प्रस्तावित नगर भ्रमण चल समारोह स्थगित 

देवास। सद्गुरु योगेन्द्र शीलनाय महाराज के ब्रम्हलीन हुवे 100 वर्ष पूर्ण हो चुके है। इस सुअवसर पर सद्गुरू शीलनाथ धुनी संस्थान एवं भक्तों ने गुरू महाराज की 6 फीट ऊंची सफेद वियतनाम के पत्थर से निर्मित मार्बल की प्रतिमा स्थापित करने का संकल्प किया एवं भक्तजनों के सहयोग समर्पण एवं संकल्प से मल्हार भूमि संस्थान पर यह प्रतिमा स्थापित होने जा रही है। 
उक्त प्रतिमा 9 टन वजन के मार्बल से बनाई गई है। इसके साथ ही मार्बल से विशाल एवं सुन्दर सिंहासन का निर्माण किया गया है, जिस पर कि गुरू महाराज की प्रतिमा विराजित होगी। 121 वर्षों से सतत् रूप से चैतन्य धुनी के आसपास ब्रांस की रैलिंग का निर्माण किया गया है। उक्त धुना 121 वर्ष से है, जिसे कि गुरु महाराज द्वारा चैतन्य किया गया था। आज भी सतत् निरन्तर प्रज्वलित है और भक्तजन की मनोकामनाओं को पूर्ण कर रहा है। इस घुनी के आसपास सफेद मार्बल पत्थर लगाकर इसे आधुनिक स्वरूप प्रदान किया गया है। उक्त धुनी के दर्शन कर भक्तगण अपनी मनोकॉमना पूर्ण कर रहे है। 6000 स्क्वेयर फिट के सभा मण्डप में प्लास्टिक पेंट्स से कलर कर आधुनिक एल.ई.डी. लाईट फिटिंग से सभा मण्डप हाल को सुसज्जित किया गया है। 
इसके साथ ही परिसर में स्थित प्राचीन शिवलिंग जिसकी स्थापना जूनियर स्टेट देवास के तत्कालीन राजा गुरु महाराज के परम् भक्त मल्हा राव बाबा द्वारा की गई थी। उसे एक नये आर्कषक शिव मंदिर की स्थापना कर शिवलिंग स्थापित किया जा रहा है। इस अवसर पर नगर निगम द्वारा परिसर में पैवर ब्लॉक लगाकर इस परिसर को आर्कषित स्वरूप प्रदान किया गया है एवं नये सुसज्जित लेटबॉथ की भी सुविधा भक्तों को प्रदान की गई है। सद्गुरू शीलनाथ महाराज की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम हमारे भक्तों के मार्ग दर्शन एवं अध्यात्मिक जगत के प्रेरणा स्त्रोत झोंकरकर बाबा साहेब के मार्गदर्शन में उज्जैन के पुरोहितों द्वारा पूर्ण विधिविधान के साथ सम्पन्न किया जावेगा। प्राण प्रतिष्ठा एवं यज्ञ वैदिका के लिए 1200 स्के. फिट का विशेष स्थान निर्मित किया गया है। 
26.07. 2021 को शिव मंदिर पूजा एवं प्राण प्रतिष्ठा तथा वास्तु शास्त्र के पूजन के साथ कार्यक्रम प्रारम्भ होगा। 27 जुलाई से गुरु महाराज की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा पूजन प्रारम्भ होगा जो कि 29 जुलाई तक यज्ञ एवं आहूतियों के साथ सम्पन्न होगा। उसी दिन शाम 5.54 पर विशेष आरती के पश्चात् गुरू महाराज के दर्शन का लाभ जनमानस को प्राप्त होगा। 
उक्त कार्यक्रम में गुरू महाराज के नाथ सम्प्रदाय के सुल्तानपुर (हरियाणा) मठ के महाधिपति महंत संतोषनाथ जी उपस्थिति रहेगें। उक्त मठ से ही शिलनाथ जी ने अपने बाल्यकाल में लगभग 13 वर्ष की उम्र में गुरु ईलायची नाथ जी से दिक्षा लेकर अपनी यात्रा प्रारम्भ की थी। उक्त समारोह में भ्रत हरि गुफा उज्जैन के मठाधिपति रामनाथ जी भी अपने नार्थों के साथ उपस्थित रहेगें। उक्त समस्त कार्यक्रमों में सदगुरू योगेन्द्र शिलनाथ ट्रस्ट के पदाधिकारी अजीत भल्ला, भगवान सिंह चावड़ा, राजेन्द्र महंत, महेन्द्र सिंह पडिय़ार, प्रबंधक सुरेश गोखले समस्त जनमानस एवं भक्तो से उक्त आयोजन में उपस्थित होकर सफल बनाने की अपील की है। 
उक्त कार्यक्रम कोविड -19 की गाईड लाईनों के नियमो के पालने के साथ सम्पन्न होगा। कोविड को देखते हुए 27.07.2021 को प्रस्तावित नगर भ्रमण चल समारोह स्थगित करने का निर्णय लिया गया। 
Royal Group
Sneha

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button

Adblock Detected

कृपया Adbloker बंद करें और क्रोम ब्राउजर मे ही ओपन करें