देवासप्रशासनिक

खातेगांव में मुख्यमंत्री चौहान ने किया रोड शो, आम सभा को संबोधित कर हंडिया बैराज माइक्रो उदवहन सिंचाई परियोजना का भूमि पूजन किया

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खातेगांव में 1294.27 करोड की हंडिया बैराज माइक्रो उदवहन सिंचाई परियोजना का भूमि पूजन किया
हंडिया बैराज माइक्रो उदवहन सिंचाई परियोजना का नाम बाबा सिद्धनाथ परियोजना करने की घोषणा की
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरणगांव को तहसील बनाने की घोषणा भी मंच से की
देवास.  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को देवास जिले की खातेगांव विधानसभा में पहुंचकर 1294.27 करोड की हंडिया बैराज माइक्रो उदवहन सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन किया। साथ ही हंडिया बैराज माइक्रो उदवहन सिंचाई परियोजना का नाम बाबा सिद्धनाथ परियोजना करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरणगांव को तहसील बनाने की घोषणा भी मंच से की। हंडिया बैराज माइक्रो उदवहन सिंचाई परियोजना  परियोजना अन्तर्गत नर्मदा नदी से देवास जिले की खातेगांव तहसील के नजदीक ग्राम – कुण्डगांवखुर्द से 12.60 क्यूमेक जल उदवहन कर देवास जिले के 72 ग्रामों में सिंचाई सुविधा एवं 25 मेगावॉट विद्युत उत्पादन का प्रावधान है। परियोजना अन्तर्गत कुल विद्युत खपत 19.89 मेगावॉट है। हंडिया बैराज परियोजना से खातेगांव तहसील में 35000 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की जाना प्रस्तावित है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हरणगांव सहित छुटे हुए अन्य ग्रामों का सर्वे कर परियोजना का विस्तार किया जायेगा। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा परियोजना से जुडी लघु फिल्म भी कार्यक्रम में दिखाई गई।
          मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों के हित में सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी, किसानों का जीवन बेहतर बनाने के लिए, सरकार निरन्तर कार्य रही है! जब तक खेती फायदे का धन्धा नहीं बन जाती तब सरकार चैन की सांस नहीं लेगी किसानों के लिए हर कदम उठाये जा रहे हैं, हमने किसानों की चिंता की खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए इस क्षेत्र में नर्मदा का पानी खेतों तक पहुंचाया। हमने ब्याज का प्रतिशत घटाकर जीरो कर दिया। हम सभी विशाल परिवार हैं। हम प्रदेश में सरकार नहीं परिवार चला रहे है। जिस प्रकार एक परिवार में हर सदस्य के हितों का पूरा ध्यान रखा जाता है, उसी प्रकार प्रदेश में भी हर व्यक्ति के कल्याण के कार्य किये जा रहे हैं। गरीब किसान भाइयों को वर्ष में मिलने वाली सम्मान निधि की राशि 12 हजार रूपये दी जा रहे है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पुरानी सरकार ने जन-कल्याण की बहुत सी योजनाएँ बंद कर दीं। हमारी सरकार ने किसानों का 2200 करोड़ रूपये का ब्याज भर कर उन्हें ऋण मुक्त किया है और शून्य प्रतिशत ब्याज पर उन्हें फसल ऋण दिया जा रहा है। पुरानी सरकार ने संबल और तीर्थ-यात्रा बंद कर दी तथा मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना की राशि नहीं दी। हमारी सरकार ने सभी योजनाएँ दोबारा चालू की। अब बुजुर्गों को हवाई जहाज से भी तीर्थ-दर्शन कराया जा रहा है।
 मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि लाडली बहनों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए हर महीने बहनों के खाते में एक हजार रुपए आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आपका भैया अभी रुकने वाला नहीं है, जल्द ही बहनों के खाते में आने वाली राशि एक हजार से बढाकर धीरे धीरे तीन हजार तक कर दी जायेगी। लाडली लक्ष्मी योजना से प्रदेश की 45 लाख बेटियों को लाभ दिया जा रहा है। प्रदेश में 45 लाख से अधिक लाड़ली लक्ष्मी हैं और लगभग 1.25 करोड़ लाड़ली बहनें हैं। अब 21 वर्ष की बहनों और ट्रेक्टर वाले 5 एकड़ से कम भूमि वाले परिवार की बहनों को भी लाड़ली बहना योजना की पात्रता है। पंचायतों एवं नगरीय निकायों में 50 प्रतिशत आरक्षण के कारण आज बहनें सरकार चला रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बहनों की इज्जत और मान-सम्मान का पूरा ध्यान रखा जाता है। दारू के अहाते बंद कर दिये गये हैं। बहनों के प्रति दुराचार करने वालों को फाँसी की सजा का प्रावधान है। साथ ही दुराचारियों के घरों पर बुल्डोजर चलाये जा रहे है।
   मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं बेटे-बेटियों की पढ़ाई में पैसों की बाधा नहीं आने दूँगा। बच्चों को किताब, गणवेश, सायकल, लेपटॉप और अब टॉप करने वाले विद्यार्थियों को स्कूटी भी दी जा रही है। मेधावी विद्यार्थियों की उच्च शिक्षा की फीस भी सरकार भरवाएगी। प्रदेश में एक लाख पदों पर सरकारी भर्ती की जा रही है, स्व-रोजगार के लिये ऋण दिलाये जा रहे हैं और मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ योजना में प्रशिक्षण के साथ मानदेय भी दिया जा रहा है। हर हाथ को कार्य दिया जा रहा है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कन्या-पूजन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया। पुष्पवर्षा कर बहनों का अभिनंदन किया। मंच पर बहनों ने अपने लाड़ले मुख्यमंत्री भाई को राखी बांधी।
भूमि पूजन कार्यक्रम में जलसंसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट, कृषि मंत्री श्री कमल पटेल, सांसद विदिशा श्री रमाकांत भार्गव, विधायक खातेगांव श्री आशीष शर्मा, विधायक हाटपीपल्या श्री मनोज चैधरी, विधायक बागली श्री पहाड सिंह कन्नौजे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती लीला अटारिया, देवास विकास प्राधिकरण अध्यक्ष श्री राजेश यादव, भाजपा अध्यक्ष श्री राजीव खण्डेलवाल, पूर्व विधायक श्री राजेन्द्र वर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि, पुलिस महानिरीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह, कलेक्टर श्री ऋषव गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री संपत उपाध्याय, सीईओ जिला पंचायत श्री हिमांशु प्रजापति, एएसपी श्री मंजीत सिंह चावला, एएसपी ग्रामीण श्री सुर्यकांत शर्मा अपर कलेक्टर महेन्द्र सिंह कवचे, एसडीएम खातेगांव श्री प्रवीण प्रजापति, एसडीएम बागली श्री शोेभाराम सोलंकी, एसडीएम देवास श्री टी प्रतीक राव, एसडीएम कन्नौद श्री अभिषेक सिंह, एनवीडीए के एसीएस श्री एम एन मिश्रा, कार्यपालन यं़त्री एनवीडीए श्री एम के रायकवार सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी, प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधि एवं बडी संख्या में लाडली बहना, किसान एवं विशाल जनसमूह उपस्थित था।
Ebenezer
Sneha
central malwa school
Back to top button