देवासप्रशासनिक

देवास में स्वास्थ्य विभाग में बड़ा घोटाला, सीएमएचओ मिश्रा, सीएस एमपी शर्मा सहित 8 निलंबित

देवास: देवास लाइव की खबर का बड़ा असर हुआ है। जिले में स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ कार्यालय में हुए घोटाले के मामले में संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं ने बड़ी कार्रवाई की है। इस मामले में संभागीय संयुक्त संचालक कोषालय एवं लेखा उज्जैन की जांच रिपोर्ट के आधार पर वर्तमान सीएमएचओ डॉ. शिवेंद्र मिश्रा, तत्कालीन डीडीओ डॉ. वीके सिंह, पूर्व सीएमएचओ डॉ. एमपी शर्मा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अशोक वर्मा, चिकित्सा अधिकारी डॉ. कमल मालवीय, और तत्कालीन जिला टीकाकरण अधिकारी व वर्तमान में सीएमएचओ आलीराजपुर डॉ. कैलाश कल्याणे को निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा, सहायक ग्रेड II आश्विन सूर्यवंशी और रवि वर्मा को भी निलंबित किया है।

निलंबित कर्मचारियों की सूची:

  1. डॉ. शिवेंद्र मिश्रा (वर्तमान सीएमएचओ)
  2. डॉ. वीके सिंह (तत्कालीन डीडीओ)
  3. डॉ. एमपी शर्मा (पूर्व सीएमएचओ)
  4. डॉ. अशोक वर्मा (जिला स्वास्थ्य अधिकारी)
  5. डॉ. कमल मालवीय (चिकित्सा अधिकारी)
  6. डॉ. कैलाश कल्याणे (तत्कालीन जिला टीकाकरण अधिकारी, वर्तमान सीएमएचओ आलीराजपुर)
  7. आश्विन सूर्यवंशी (सहायक ग्रेड II)
  8. रवि वर्मा (सहायक ग्रेड II)

क्या था मामला

देवास में स्वास्थ्य विभाग के घोटाले के मामले में दो पूर्व सीएमएचओ एमपी शर्मा और विष्णुलता उइके, टीकाकरण अधिकारी डॉ. कैलाश कल्याणे, ऑपरेटर प्रकाश साठे, रवि वर्मा, अश्विन सूर्यवंशी, और अन्य तीन कर्मचारियों अंकित घाडगे, योगेश कहार, और पंकजसिंह गुर्जर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। कुल 4.26 करोड़ रुपये की अनियमितताओं की जांच के बाद, यह कार्रवाई की गई। जांच में पाया गया कि 2018 से 2023 के बीच 74 अनियमित लेनदेन हुए, जिनमें से अब तक 1.32 करोड़ रुपये की वसूली की जा चुकी है। निलंबन में कुछ नए नाम सामने आए हैं जिनका जिक्र पहले नहीं था। संभवत अब पुलिस एफआईआर में नाम बढ़ाए जा सकते हैं।

सभी निलंबन आदेश

Sneha
san thome school
Show More
Back to top button