देवासप्रशासनिक

कलेक्टर श्री गुप्ता ने जिला अस्पताल में निर्माणाधीन 100 बेड मेटरनिटी भवन और 50 बेड क्रिटिकल केयर यूनिट का निरीक्षण कर कार्य शीघ्र पूर्ण करने के दिये निर्देश

  • जिला अस्‍पताल में पानी निकासी के लिए ड्रेनेज प्लॉन, साफ-सफाई सहित अन्य व्यवस्था को दुरूस्थ करें – कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता
  • जिला चिकित्सालय में आने वाले मरीजों के अटेंडर को पास दें

     देवास.  कलेक्टर श्री ऋषव गुप्ता ने जिला अस्पताल में निर्माणाधीन 100 बेड मेटरनिटी भवन और 50 बेड क्रिटिकल केयर यूनिट का आकस्मिक निरीक्षण किया। कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने निरीक्षण के दौरान निर्माणाधीन 100 बेड के मेटरनिटी भवन में बनाये जा रहे विभिन्न वार्ड और सेक्शन के संबंध में संबंधित अधिकारियों से विस्तार से जानकारी ली और कार्य की गति धीमी होने और समय-सीमा में कार्य पूर्ण नही करने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए 24 घण्टे कार्य जारी रखते हुए कार्य शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये। इस दौरान इंजीनियर द्वारा 15 फरवरी तक समस्त निमार्ण कार्य पूर्ण करने और लिफ्ट लगाये जाने की बात कही गई।

     निरीक्षण के दौरान सिविल सर्जन डॉ एम.पी.शर्मा जानकारी देते हुए बताया कि नवीन मेटरनिटी भवन के लिए आवश्यक बेड उपलब्ध है। जेसी ही भवन पूर्ण होगा मेटरनिटी जिला अस्पताल से नवीन भवन मे शिफ्ट होगी और प्रसव सहित समस्‍त मातृ-शिशु स्वास्थ्य सेवायें प्रदान की जायेगी।

     जिला अस्पताल परिसर में ट्रामा सेन्टर के समीप नवीन निर्माणाधीन 50 बेड क्रिटिकल केयर युनिट के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री गुप्ता ने निर्माण एजेंसी के अधिकारियों को निर्धारित समय-सीमा में भवन और पार्किंग व्यवस्था सहित समस्त कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान सिविल सर्जन डॉ एम.पी. शर्मा ने क्रिटिकल केयर युनिट में मरीजों को दी जाने वाली स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी दी। इस दौरान बताया गया कि 50 बेड क्रिटिकल केयर युनिट में 20 सामान्य बेड,  22 बेड आईसीयू और 8 बर्न बेड सहित ब्लड बैंक की सुविधा होगी।

     निरीक्षण के दौरान कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने कहा कि जिला चिकित्सालय में आने वाले मरीजों के अटेंडर को आने-जाने के लिए पास दें। जिला अस्पताल परिसर के सभी पुराने भवन और नवीन निर्माणाधीन भवनों के पानी की निकासी के संबंध में नगर निगम, पीडब्लूडी विभाग के इंजीनियर को निर्देश दिये कि सम्पूर्ण परिसर की प्लानिंग कर कार्यवाही करें। अस्पताल परिसर में साफ-सफाई कर अनुपयोगी जगह को व्यवस्थित करते हुए निगम के अधिकारी सें समन्वय कर अच्छे गार्डनो का निर्माण कराया जाये। नर्सिंग कालेज की तरफ रास्ते में स्ट्रीट लाईट लगवायी जाये। परिसर में सभी पुरानी नालियो को ठीक करवाये और लाईट के वायरो को सुव्यवस्थित करें।

     कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता जिला अस्‍पताल परिसर में आजीविका स्वाद संगम केटिंग और रेन बसेरा का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने केंटिग का संचालन कर रही स्व सहायता समूहों के स्टॉफ से चर्चा और आवश्यक निर्देश दियें। कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने कहा कि स्वाद संगम कैंटीन में न्यूनतम दर पर नास्ता और भोजन उपलब्ध कराया जा  रहा। जिला अस्पताल में ईलाज कराने वाले मरीजों के परिजनों के रूकने रात्रि मे ठहरने के लिए रैन बसेरा भी न्यूनतम दर पर उपलब्ध है। इसकी जानकारी अधिक से अधिक मरीजों के परिजनों को दे, जिससे इसका लाभ उठा सके।

     निरीक्षण के दौरान डिप्टी कलेक्टर श्री अभिषेक शर्मा, सीएमएचओ डॉ विष्णुलता उईके, सिविल सर्जन डॉ एम.पी. शर्मा, आर.एम.ओ. डॉ अजय पटेल, अस्पताल मैनेजर श्री प्रमोद गुणवान, श्रीमती शीला शुक्ला, पीडब्लूडी, नगर निगम, हाउसिंग बोर्ड के इंजीनियर, अस्पताल प्रबंधक सहित अन्य चिकित्सक एवं स्टॉफ उपस्थित था।

Sneha
Ebenezer
central malwa school
Back to top button