अपराधदेवास

वीडियो: देवास लॉ कॉलेज की स्टूडेंट इंदौर कोर्ट में पीएफआई के लिए जासूसी करती पकड़ी गई



देवास लाइव। इंदौर न्यायालय में देवास लॉ कॉलेज की एक स्टूडेंट सोनू मंसूरी कथित रूप से पीएफआई के लिए जासूसी करती पकड़ी गई है। सोनू कोर्ट में हिंदूवादी संगठन के लोगों से जुड़े केस की फोटो वीडियो बना रही थी। मौके से उसके पास करीब सवा लाख रुपए भी बरामद हुए। इंदौर पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया और 3 दिन का रिमांड लिया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सोनू मंसूरी के पास से देवास लॉ कॉलेज का आईडी कार्ड बरामद हुआ है। इंदौर में वह काला कोट पहनकर नूरजहां खान नाम की वकील के साथ काम करती थी। कोर्ट केस की प्रोसिडिंग में हुई बहस, तथ्यों की जानकारी और फोटो वीडियो पीएफआई और पीस पार्टी से जुड़े लोगों को उपलब्ध करवाती थी।

खास बात यह है की सोनू मंसूरी ने दिल्ली से आए वरिष्ठ वकील एजाज हाशमी से बात करने के बाद ही पुलिस को बयान बयान दिया। मामले में इंटेलिजेंस विंग भी अब सक्रिय हो गई है।
प्रारंभिक रूप से यह जानकारी सामने आई है की हिंदू मुस्लिम मामलों से जुड़े प्रकरणों की जानकारी प्रतिबंधित संगठन पीएफआई तक पहुंचाई जाती थी। वकीलों की शिकायत पर एमजी रोड थाना पुलिस ने सोनू मंसूरी को पकड़ा। मंसूरी के पास से करीब सवा लाख रुपए भी बरामद हुए हैं।

इधर पता चला है कि सोनू मंसूरी कसरावद (खरगोन) की रहने वाली है और उसने ऑनलाइन माध्यम से देवास के लॉ कॉलेज में एडमिशन लिया था। सोनू इस समय तीसरे सेमेस्टर की पढ़ाई कर रही है।

Sneha
Ebenezer
central malwa school
Back to top button