दुर्घटनादेवास

गंभीर होने लगा कोरोना: अमलतास हॉस्पिटल में 24 घंटे में 3 मरीजों की मौत, 4 जिलों के कोरोना मरीजों का इलाज होता है

देवास लाइव। कोरोना वायरस का संक्रमण अब बढ़ता ही जा रहा है। अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित मरीजों के लिए यह संक्रमण जानलेवा साबित हो रहा है। पिछले 24 घंटे में देवास स्थित कोविड हॉस्पिटल अमलतास में तीन मौते हो गईं। इनमे उज्जैन, शाजापुर और देवास के सोनकच्छ के निवासी मरीजों की मौत की सूचना है।
हालाँकि यह भी कहा जा रहा है की अस्पताल में देर रात ऑक्सीजन की कमी होने से कुछ लोगों की मौत हुई है लेकिन कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला ने इस बात का खंडन किया है। कलेक्टर के अनुसार कल देर रात शाजापुर की शांता बाई पति सत्यनारायण गिरी उम्र ६५ वर्ष जो की पहले से शुगर और ब्लड प्रेशर से ग्रस्त थी और उज्जैन के अशोक कुमावत पिता नानुराम कुमावत उम्र 42 वर्ष जो की किडनी की बीमारी से ग्रसित थे, दोनों को गंभीर अवस्था में अमलतास में कोरोना की आशंका में कल ही भर्ती करवाया गया था जिनकी रात में मौत हो गई। दोनों की कोरोना रिपोर्ट नहीं आई है।
कल ही देवास के सोनकच्छ निवासी मरीज आनंद राव की मौत भी हुई है। आनंद राव राज्य स्तरीय कोच और लोक निर्माण विभाग में लिपिक के पद पर कार्यरत थे।
अमलतास प्रबंधन की ओर से इस मामले में अभी कोई जानकारी साझा नहीं की है। फ़ोन लगाने पर डॉ जगत रावत ने फ़ोन का जवाब नहीं दिया, जनसंपर्क अधिकारी सतीश उपाध्याय ने खुद को छुट्टी पर बताया।
उल्लेखनीय है की अमलतास कोविड हॉस्पिटल के रूप में चिन्हित है और यहां पर देवास, उज्जैन, शाजापुर और आगर जिले के कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज किया जा रहा है।
san thome school
Sneha
sandipani
little cry

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button