अपराधखातेगांवदेवास

वीडियो: कृषि सुधार बिल आने के बाद भी देवास के किसानों को करीब 5 करोड़ का चूना लगा गया व्यापारी

मंडी से बाहर अनाज बेचने पर किसानों को 4 से 5 करोड़ का चूना, व्यापारी ने चेक देकर खरीद ली फसल, अब गायब

देवास लाइव। जिले के खातेगांव तहसील में किसानों के साथ चार से पांच करोड रुपए की धोखाधड़ी का मामला प्रकाश में आया है।

आरोप है कि खातेगांव क्षेत्र में व्यापारिक फार्म खोजा ट्रेडर्स के संचालक सुरेश और पवन पिता नारायण खोजा ने खातेगांव कृषि उपज मंडी से व्यापारी लाइसेंस लिया। लाइसेंस लेने के 15 दिन बाद व्यापारी ने अपना लाइसेंस निरस्त करवा लिया। इसके बाद व्यापारी बंधुओं ने आसपास के किसानों से बड़ी मात्रा में मूंग और डालर चना की खरीदी की और उन्हें भुगतान स्वरूप चेक दे दिया। जब सभी चेक बाउंस हो गए तो किसानों ने भुगतान के लिए व्यापारी से संपर्क किया तब जाकर उन्हें पता चला कि वह धोखे का शिकार हो गए हैं। अब तक करीब 22 किसानों ने शिकायत दर्ज कराई है। इनकी संख्या बढ़ भी सकती है। जानकारों द्वारा करीब 5 करोड़ रुपए धोखाधड़ी बताई जा रही है। मामले में किसानों ने एसडीएम को शिकायत दर्ज कराई है।

पुलिस ने दोनों व्यापारियों को लिया हिरासत में

खातेगांव पुलिस ने आरोपी सुरेश खोजा, पवन खोजा के खिलाफ धारा 420,34 IPC के तहत केस दर्ज कर दोनों को हिरासत में लिया है।

मंडी के बाहर हो सकता है धोखा

खातेगांव में घटित हुई घटना के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि सरकार द्वारा कृषि सुधार कानून बनाने के बाद अब किसानों से कोई भी व्यापारी मंडी के बाहर भी खरीदी कर सकता है। ऐसे में भोले-भाले किसानों को प्रलोभन देकर कोई भी व्यापारियों ने धोखे का शिकार बना सकता है। इन किसानों के संरक्षण के लिए अब क्या प्रावधान होंगे इस पर संशय की स्थिति है।

Sneha
san thome school

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button