देवासप्रशासनिक

वीडियो: जिला चिकित्सालय से बच्ची चोरी होने के बाद जमकर हंगामा, पूर्व पार्षद ने आत्मदाह का प्रयास किया, कलेक्टर ने 27 दल गठित किए, बोले आज ही होगी जिम्मेदारों पर कारवाई, देखिए सुबह से लेकर अब तक का कवरेज



देवास लाइव। लापरवाही के लिए कुख्यात देवास का महात्मा गांधी जिला चिकित्सालय आज फिर चर्चाओं में है।
सुबह 4 से 5 बजे के बीच अस्पताल से शाजापुर की रहने वाली प्रसूता टीना पति विशाल वर्मा की 3 दिन की नवजात बच्ची चोरी हो गई।

सुबह जिला अस्पताल में जमकर हंगामा हुआ जिसके बाद पुलिस ने धारा 363 के तहत प्रकरण दर्ज कर बच्ची की तलाश शुरू की। यह खबर जंगल की आग की तरह फैली और गुस्साए लोग जिला अस्पताल में पहुंच गए।

पूर्व पार्षद रुपेश वर्मा ने आत्मदाह का प्रयास किया


मामले में पूर्व पार्षद रुपेश वर्मा ने जिला अस्पताल के गेट पर अपने ऊपर पेट्रोल की एक पूरी बोतल उड़ेल ली। गनीमत थी कि वही पर पुलिस प्रशासन मौजूद था जिसने तुरंत उन्हें पकड़ा और आत्मदाह नहीं करने दिया। पेट्रोल आंख में जाने से जिला अस्पताल ले जाकर इलाज करवाया। इस दौरान वहां पर मौजूद लोगों ने अस्पताल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

मनीष सेन की अगुवाई में सीएमएचओ कार्यालय में ताला डाला


विरोध का घटनाक्रम चल ही रहा था कि इसी दौरान नगर निगम के पूर्व सत्तापक्ष नेता मनीष सेन भी मौके पर पहुंच गए। जब लोगों ने उन्हें आपबीती बताई तो उन्होंने सीएमएचओ कार्यालय की ओर रुख किया। यहां पर मौजूद भीड़ ने कार्यालय में जमकर हंगामा किया और सभी कर्मचारियों को बाहर निकाल कर ताला जड़ दिया।

कलेक्टर कार्यालय में जाकर किया प्रदर्शन, कलेक्टर से मुलाकात की



सीएमएचओ कार्यालय में ताला जड़ने के बाद गुस्साए लोग कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और वहां पर कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला से मुलाकात की। कलेक्टर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए त्वरित कार्रवाई करने के संकेत दिए और कहा कि बच्ची को खोजना हमारी प्राथमिकता है इसलिए 27 दलों का गठन कर खोजबीन की जा रही है। मामले में जिला अस्पताल प्रशासन की भी गंभीर लापरवाही सामने आई है जिसकी जानकारी राज्य शासन और संभागायुक्त को दे दी गई है। कलेक्टर के अनुसार आज ही इन पर कार्रवाई की जाएगी।

Royal Group
Sneha
Back to top button

Adblock Detected

कृपया Adbloker बंद करें और क्रोम ब्राउजर मे ही ओपन करें