देवास

कांटाफोड़ के तत्कालीन लेखापाल और सीएमओ निलंबित, देवास लाइव ने किया था घोटाले का खुलासा



देवास लाइव। प्रधानमंत्री आवास योजना समेत कई अन्य योजना के लिए आया पैसा अन्य मदों में फर्जी बिल लगाकर खर्च करने के मामले में नगरीय प्रशासन विभाग ने कांटा फोड़ के तत्कालीन लेखापाल और सीएमओ को निलंबित किया है। विदित हो कि इस घोटाले की पोल देवास लाइव ने खोली थी, जिसके बाद लोकायुक्त पुलिस मामले की जांच कर रही है। मामले में अब तक 45 लोगों पर एफआईआर हो चुकी है।

नगर परिषद कांटाफोड़ के तत्कालीन लेखापाल सतीश घावरी व तत्कालीन प्रभारी सीएमओ सैयद मकसूद अली को मंगलवार को नगरीय प्रशासन विभाग ने गंभीर वित्तीय अनियमितता के चलते निलंबित कर दिया है। कलेक्टर के पत्र द्वारा प्रतिवेदित किया गया कि सड़क निर्माण के लिए शासन अनुदान राशि 14.01 लाख व ऋण राशि 24 लाख कुल 38 लाख रुपए का मद परिवर्तन करके अन्य मदों में भुगतान किया गया है, जो गंभीर वित्तीय अनियमितता की श्रेणी में आता है। मुख्यमंत्री शहरी अधोसंरचना के तृतीय चरण अंतर्गत सड़क निर्माण राशि का भुगतान अन्य मद में नियम विरुद्ध किए जाने से मप्र लेखा नियम में वर्णित प्रावधानों का उल्लंघन किया है। अतः घावरी व अली को तत्काल प्रभाव से निलंबित जाता है।

निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय जिला शहरी विकास अभिकरण जिला देवास रहेगा। उन्हें निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा।

Ebenezer
Sneha
central malwa school
Back to top button