देवासन्यायालय


देवास में लॉ सेमिनार आयोजित, वकीलों को कानून और वकालत के क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने के तरीके बताए गए


देवास, मध्य प्रदेश: शहर के वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक वर्मा एडवहोकेट एंड एसोसिएट्स द्वारा मल्हार स्मृति में “वकील कानून, वकालत के क्षेत्र में एवं कानूनी पेशे की गरिमा में उत्कृष्टता कैसे प्राप्त करे” विषय पर लॉ सेमिनार आयोजित किया गया। इस अवसर पर मुख्य वक्ता डॉ. इनामुरहमान साहब ने विधिक पेशा और अधिवक्ता के बारे में तथा विधिक क्षेत्र में जिन कठिनाइयों को दूर कर अधिवक्ता समाज की सेवा कर सकता है, उस पर केंद्रित रहा।


विशिष्ट अतिथियों द्वारा व्याख्यान


डॉ. इमरान मोहम्मद खान ने विधि के इतिहास, प्राचीन परंपरा और विधि के सिद्धांतों पर व्याख्यान दिया।
डॉ. अजय चौहान, प्राचार्य, विधि महाविद्यालय ने जटिल, ड्राफ्टिंग, प्लीडिंग और अभिभाषकीय कर्तव्य पर सारगर्भित व्याख्यान दिया।


श्री धीरेंद्र कुमार तिवारी ने डाटा विधिक व्यवसाय में गिरावट और अधिवक्ताओं की कार्यप्रणाली पर व्याख्यान दिया। उन्होंने विशेष रूप से अधिवक्ताओं के कल्याण हेतु क्या योजनाएं होनी चाहिए, इस पर भी बात की।


कार्यक्रम का शुभारंभ
कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन और अतिथि परिचय के साथ हुआ। स्वागत भाषण अशोक वर्मा वरिष्ठ अधिवक्ता ने दिया। उन्होंने बताया कि लॉ सेमिनार का आयोजन पूर्व में भी उनके द्वारा देवास में किया गया है और भविष्य में भी अधिवक्ताओं के लिए कार्यक्रम होते रहेंगे।


अन्य वक्ता
कार्यक्रम में वरिष्ठ अधिवक्ता डी.एस. गुप्ता, इरशाद कुरैशी, एसएम खान, असलम खान तथा जुनियर अधिवक्ता पृथ्वीराज जाधव, श्रीमती अनिता ठाकुर, कुमारी स्वीना गोयल, चांदनी ठाकुर, कुमारी गिरिजा ने भी अपने विचार व्यक्त किए।


आभार
अतिथियों का परिचय जाहिद पठान, श्री रूपेश कुमार, श्रीमती महजबी खान, सुरेश वेद ने दिया। आभार प्रकाश शर्मा, सिद्धार्थ माहुरकर एवं विजय राठौर ने माना। संचालन हेमन्त कुमार शर्मा ने किया।
यह लॉ सेमिनार वकीलों के लिए उपयोगी जानकारी प्रदान करने और उन्हें कानून और वकालत के क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए प्रेरित करने में सफल रहा।

Sneha
san thome school
Back to top button