देवासन्यायालय

करवाचौथ पर प्रेमी के साथ मिलकर की पति की थी हत्या, महिला और प्रेमी दोनों को आजीवन कारावास

देवास लाइव। 2019 में प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या करने के आरोप में देवास न्यायलय ने महिला और उसके प्रेमी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। शहर के इटावा में रहने वाली महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की करवाचौथ के दिन हत्या की और शव प्रेमी के खेत में गाड़ दिया था।

जानकारी के अनुसार जनवरी 2019 में पुलिस ने दो माह से गायब व्यक्ति का कंकाल बन चुका शव नारंजीपुर स्थित खेत से खोदकर निकलवाया था। शहर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के इटावा में मृतक सुनील जाटव को उसकी पत्नी पिंकी और पिंकी के प्रेमी अनवर ने धोखे से मार दिया था।

दोनों ने मिलकर सुनील का शव अनवर के खेत में गाड़ दिया था। बाद में पिंकी ने खुद ही सिविल लाइन थाने में अपने पति के गुमशुदा होने की सूचना दी। काफी समय बीतने पर भी जब युवक का पता नहीं चला तो परिजनों ने पुलिस अधिकारीयों से गुहार लगाईं।

पुलिस को जांच में यह बात पला चली कि पिंकी और अनवर के अनैतिक संबंध थे। इसके बाद पुलिस ने पिंकी से सख्ती से पूछताछ की तो उसने पूरी वारदात का खुलासा किया। मामले में पुलिस ने पिंकी और अनवर के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया था।

विशेष लोक अभियोजक अतुल पंड्या ने बताया कि विशेष न्यायालय द्वारा निर्णय पारित करते हुए अभियुक्त अनवर एवं पिंकी को दोषसिद्ध पाया। न्यायालय ने सुनील की हत्या के मामले में अनवर एवं पिंकी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी विशेष लोक अभियोजक अतुल पंड्या ने की।

Sneha
san thome school
Back to top button