अपराधदेवास

इंदौर क्राइम ब्रांच द्वारा पकड़े गए देवास के नकली डीएसपी ने देवास में भी की थी ठगी, नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों ठगे



देवास लाइव। शहर के प्रेम नगर पार्ट 2 कॉलोनी से पकड़े गए आरपीएफ के बर्खास्त डीएसपी अशोक तिवारी पर देवास में एक ठगी का प्रकरण दर्ज हुआ है। उसने फरियादी की बेटी और साले को नौकरी दिलाने के नाम पर 1.69 लाख की ठगी की। बदले में फर्जी नियुक्ति पत्र दे दिया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक कोतवाली थाना क्षेत्र के बालगढ़ में रहने वाले फरियादी कमल मीणा ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह इलेक्ट्रॉनिक सामान का सुधार करने आरोपी डीएसपी के घर गए थे। आरोपी ने खुद को डीएसपी बताया और कई विभागों में जान पहचान होने की बात कही, साथ में बेटी और साले को नौकरी दिलाने की बात की। इसी दौरान अशोक तिवारी ने धीरे-धीरे उनसे 1.69 लाख रुपए ले लिए। फरियादी ने जब इंदौर क्राइम ब्रांच द्वारा अशोक तिवारी को गिरफ्तार करने की खबर पढ़ी तो उन्हें ठगी की पता चला। जिस पर पुलिस में प्रकरण दर्ज कराया गया है। सूत्रों की माने तो नौकरी के नाम पर ठगी के कई मामले देवास में अशोक तिवारी कर चुका है।

san thome school
little cry
sandipani
Sneha
Back to top button