देवासनगर निगम

वाहनों के प्रदूषण स्तर को चेक करने के लिए नगर निगम ने लगाया शिविर, तीन दिवसीय शिविर में आसानी से चेक हाे रहा है पीयूसी, हाथोंहाथ दी जा रही है रिपोर्ट


देवास। नगर निगम शहर की वायु गुणवत्ता की दिशा में अथक प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में नगर निगम ने पीयूसी चेक करने के लिए तीन दिवसीय शिविर लगाया है। शिविर में प्रशासनिक वाहनों के साथ ही आमजन भी अपने वाहनों में प्रदूषण के स्तर को चेक करवा सकते हैं। शुक्रवार को शिविर के पहले दिन बड़ी संख्या में वाहनों के प्रदूषण स्तर को चेक किया गया। शिविर 23 जनवरी तक सुबह 10 से शाम 5 बजे तक चलेगा।
कलेक्टर कार्यालय के सामने चाट-चौपाटी स्थल के समीप शिविर का शुभारंभ नगर निगम आयुक्त विशालसिंह चौहान ने फीता काटकर किया। सर्वप्रथम आयुक्त ने अपनेे वाहन के प्रदूषण स्तर की जांच करवाई। कम्प्यूटराइज्ड जांच रिपोर्ट में वाहन के इंजन में किसी प्रकार का भी प्रदूषण नहीं पाया गया। जांच के पश्चात रिपोर्ट भी प्रस्तुत की गई। आयुक्त ने पीयूसी चेक करने की प्रक्रिया काे देखा और कर्मचारियों से जानकारी ली। इसके बाद नगर निगम के कचरा कलेक्शन वाहनों की जांच प्रारंभ की गई। इनकी रिपोर्ट भी हाथोंहाथ प्रदान की गई। शिविर में आमजन भी अपने वाहनों में प्रदूषण स्तर को चेक करवाने के लिए पहुंचे। एक वाहन की जांच में 5 से 7 मिनट का वक्त लगा। जिनके वाहनों में प्रदूषण का स्तर नजर आया, उन्हें सुधार करवाने की सलाह मौके पर मौजूद कर्मचारियों ने दी। निगम आयुक्त श्री चौहान ने कहा कि हम पर्यावरण संरक्षण के लिए विशेष प्रयास कर रहे हैं। घर-घर से कचरा कलेक्शन किया जा रहा है, कचरा जलने से रोका जा रहा है, पौधारोपण किया जा रहा है। वाहनों से जो धुआं निकल रहा है, उससे भी पर्यावरण प्रदूषण होता है। हमें अपने वाहनों को चेक करवाते रहना जरूरी है। इसके लिए हमने अभियान प्रारंभ किया है। नगर निगम व जिला प्रशासन के वाहनों को चेक किया जा रहा है। ये कैंप आम लोगों के लिए भी खुला हैै। कैंप में नाममात्र के शुल्क पर वाहन का वास्तविक पीयूसी चेक करवा सकते हैं। आयुक्त ने कहा कि कई बार हमें यह पता नहीं चल पाता है कि इंजन में कोई खराबी है। हम जांच करवाकर प्रदूषण फैलने से रोकने में सहयोग कर सकते हैं। शहर की आबोहवा अच्छी हो इसकी जिम्मेदारी हम सबकी है। शहर के पेट्रोल पंपों पर पीयूसी मशीने लगी हैं, वहां पर भी नागरिक पीयूसी चेक करवा सकते हैं। आयुक्त ने नागरिकों से अपील की है कि शहर के वायु प्रदूषण को कम करने में सहयोग करें। इस अवसर पर निगम सहायक यंत्री सौरभ त्रिपाठी, उपयंत्री जितेंद्र सिसौदिया, पलक श्रीवास्तव, राजेश कौशल आदि उपस्थित थे।

Sneha
san thome school
Back to top button