देवास

योग गुरु बैरागी ने दौड़ कर पुरी की 42 किमी की कावड़ यात्रा, क्षिप्रा से ग्राम निकलन स्थित निष्कंलेश्वर महादेव पहुंचकर किया पूजन


देवास। योग करके इंसान अपनी सभी बीमारियों को तो दूर करता ही है। साथ ही एक नए जीवन की प्राप्ति भी करता है। हमारी सनातन संस्कृति जो अपना अस्तित्व खो चुकी थी, वो योग के माध्यम से जाग रही है। उक्त विचार योग गुरु राजेश बैरागी ने दौड़ कावड़ यात्रा के दौरान व्यक्त किए। दिव्य योग संस्थान देवास द्वारा रविवार को भव्य योगिक दौड़ कावड़ यात्रा का आयोजन किया गया। यात्रा की शुरुआत योग गुरु बैरागी द्वारा सुबह 6 बजे मां क्षिप्रा का पूजन-अर्चन कर जल भरकर कावड़ को धारण किया और दौड़ कावड़ यात्रा प्रारंभ की, जो एबी रोड से विजयागंज मंडी रोड से दोपहर करीब 2 बजे ग्राम निकलन स्थित निष्कंलेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे, जहां उन्होंने महादेव का माँ क्षिप्रा के जल से अभिषेक कर पूजन-अर्चन किया और सभी के स्वास्थ्य की मंगल कामना की। यात्रा का 50 से अधिक स्थानों पर पुष्पवर्षा कर स्वागत करने के साथ ही अल्पाहार का वितरण किया गया।

san thome school
Sneha
Show More
Back to top button