खेती किसानीदेवास

Video: किसानों से बिना संवाद अनैतिक रूप से षड्यंत्र पूर्वक जमीन हथियाना ठीक नहीं – जीतु पटवारी

युवा किसान संगठन की भूख हड़ताल प्रशासन के समझाइश के बाद हुई समाप्त

देवास। युवा किसान संगठन की भूख हड़ताल में रविवार को प्रशासन की समझाइश के बाद समाप्त हो गई। भूख हड़ताल में 2 हजार से अधिक किसान शामिल होकर सभी ने एक सुर में 32 गांव से एमपीआईडीसी की योजना को निरस्त करने की मांग की।

संगठन अध्यक्ष रविंद्र चौधरी ने कहा कि किसान अगर देश का पेट पाल सकता है तो वह अपना हक लेना भी जानता है गांधी जी के सिद्धांतों पर चलकर देश ने आजादी पाई निश्चित रूप से हम किसान साथी इन्हीं सिद्धांतों पर चलकर अपने 32 गांव की जमीन को सरकार से आजाद करवाएंगे। भूख हड़ताल में पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता जीतू पटवारी भी शामिल हुए। उन्होंने इस योजना को किसान विरोधी बताते हुए कहा कि अगर सरकार चाहे तो उद्योग धंधे स्थापित करने के लिए बाजार मूल्य पर किसानों से सीधे जमीन खरीदे। किसानों से बगैर संवाद के अनैतिक रूप से षडयंत्र पूर्वक किसानों की जमीन हथियाना ठीक नहीं है हम इसका विरोध करते हैं। प्रदेश व देश का किसान ही देश की सरकारें बनाता है अगर किसान एकजुट होगा तो निश्चित रूप से सरकारों को इस काले कानून को वापस लेना होगा। किसानों का आभार जगदीश पटेल ने व्यक्त किया। धरना प्रदर्शन समापन के पश्चात मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन जिला अधिकारी को सौंपा गया।

इस दौरान मुख्य रूप से राजेश मुकाती, देवेंद्र चौधरी, संगठन उपाध्यक्ष राजेश पटेल, सचिव राधेश्याम वैष्णव, सुनील चौधरी, दीपक वर्मा, शाहिद पटेल, रवि, सत्यनारायण सरपंच हकीम सरपंच, आम आदमी पार्टी से प्रेमदया पवार, राकेश खिरनी, कमल वेल्डर, मनोज सहित बड़ी संख्या में किसानों ने उपस्थित होकर एकजुटता का संदेश दिया।

Sneha
san thome school
Show More
Back to top button