खेती किसानीदेवास

Video: लहसुन व प्याज की अर्थी लेकर निकले मालवा के किसान, आमदनी अठन्नी खर्चा रुपैया को चरितार्थ करती लहसुन व प्याज की फसल

लहसुन व प्याज के गिरते दामों से किसानों में आक्रोश, दाम सही ना मिलने की स्थिति में विधानसभा चुनाव में किसान देगे करारा जवाब

देवास। लहसुन व प्याज के गिरते दामों से किसानों में आक्रोश व्याप्त है। युवा किसान संगठन के बैनर तले 700 से अधिक किसानों ने लहसुन व प्याज की शव यात्रा निकाली व सरकार को लहसुन व प्याज की फसल को समर्थन मूल्य पर खरीदने का संदेश दिया। ऐसा न करने की स्थिति में विधानसभा चुनाव 2023 में विपरीत परिणाम के लिए तैयार रहें।

शव यात्रा भोपाल चौराहा देवास से शुरू होकर बस स्टैंड, लाल गेट, उज्जैन चौराहा व नगर निगम के सामने से होते  हुए कलेक्टर कार्यालय पर पहुंचकर ज्ञापन दिया। युवा किसान संगठन अध्यक्ष रविंद्र चौधरी ने प्रदेश सरकार को चेताते हुए शवयात्रा के माध्यम से कहा कि अगर हमारी फसल लहसुन को 5000 रूपए प्रति क्विंटल व प्याज को 2000 प्रति क्विंटल के समर्थन मूल्य से सरकार ने नहीं खरीदा तो पूरे प्रदेश भर में इसको लेकर के युवा किसान संगठन किसानों के साथ सडक़ों पर आंदोलन करेगी व सरकार की किसान विरोधी नीतियों को किसानों के बीच लेकर के जाएगी। जिसके चलते वर्तमान सत्ताधारी दल को सत्ता से हाथ धोना पड़ सकता है। अत: सरकार किसानों की सुध ले और उपरोक्त दिए गए मूल्य पर किसानों की फसल खरीद सुनिश्चित करें।

शव यात्रा में सभी धर्मों के लोगो ने भाग लिया, जिसमें मुख्य रूप से राजेश पटेल, देवेंद्र चौधरी, बाबूलाल पटेल, विकास चौधरी, अमजद पटेल, एहसान चाचा, सुरेश धनोरा, जगदीश पटेल, ओम पाटीदार, गगन सिंह, महेंद्र पाटीदार, राजेश जी कवि, लाल सिंह, अफजल पटेल, लीलाधर गुराडिया, ललित कुमारीया, कैलाश बिलावली, विकास कनासिया, हेमंत पांचाल, अरशद शेख अंतरालिया, मुरारी बा बरखेड़ा, सुनील चौधरी, कुंदन चौधरी, धर्मेंद्र व निलेश सिरोलिया, अजय सरपंच सुतार खेड़ा, रवि खेड़ा, घनश्याम भगत, सुनील बालोदा, शिव सरपंच हापाखेड़ा सहित बड़ी संख्या में समस्त क्षेत्र के किसानो ने भाग लिया। संगठन सचिव राधेश्याम वैष्णव ने सभी क्षेत्र के किसानों का आभार व्यक्त किया।

Sneha
sandipani
little cry
san thome school
Back to top button