खेती किसानीदेवास

लहसुन व प्याज के समर्थन मूल्य की मांग को लेकर युवा किसान संगठन ने किया पैदल मार्च

देवास। लहसुन और प्याज के समर्थन मूल्य की मांग को लेकर युवा किसान संगठन ने रविवार को ग्रामीण क्षेत्रों में पैदल मार्च निकाला। जिला पंचायत सदस्य और संगठन अध्यक्ष रविन्द्र चौधरी ने बताया कि रविवार को जिले के ड़बलचौकी क्षेत्र से सुबह 8.30 बजे पैदल मार्च शुरू हुआ व पैदल मार्च अकबरपुर, अखेपुर, चौबापीपलिया, रूपट्टा, टिनोनिया माताजी, सन्नोड़, महुडिय़ा, नारियाखेड़ा होते हुए शाम को कैलोद पहुंचा व कैलोद पर सभा आयोजित की गई।
सभा को संबोधित करते हुए चौधरी ने कहा कि अब हमारी लहसुन व प्याज की फसल अंतिम सांसे ले रही है। अगर इस समय सरकार ने किसानों की सुध लेते हुए समर्थन मूल्य नहीं दिया की तो किसान को भयंकर आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ेगा। जिसका खामियाजा प्रदेश के सत्ताधारी दल को आगामी 2023 के विधानसभा चुनाव में भुगतना पड़ सकता है। समय रहते सरकार किसानों की सुध ले व लहसुन का भाव 5000 रुपये प्रति क्विंटल व प्याज का भाव 2000 रुपये प्रति क्विंटल तुरंत प्रभाव से देना सुनिश्चित करें व किसानों को फौरी राहत दे। ऐसा न करने की स्थिति में युवा किसान संगठन प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर व प्रदेश की राजनीतिक राजधानी भोपाल तक प्रदर्शन करेगी। युवा किसान संगठन ने ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों के हस्ताक्षर भी करवाए। इस दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण क्षेत्रों के किसान उपस्थित रहे। पैदल मार्च में सभी धर्मों के लोगो ने भाग लिया व उसमें मुख्य रूप से राजेश पटेल, देवेंद्र चौधरी, प्रकाश अकबरपुर, श्याम नारीयाखेड़ा मांगीलाल पटेल, राहुल जनपद सदस्य, सत्यनारायण सनोड, बाबूलाल पटेल, कपिल परसपुर, सुनील चौधरी, सुरेश धनोरा, जगदीश पटेल, ओम पाटीदार, दौलत पाटीदार, प. लीलाधर जी गुराडिया,  हेमंत पांचाल, कुंदन चौधरी, राकेश सरपंच सिरोलिया,  रवि खेड़ा, घनश्याम भगत व अन्य समस्त क्षेत्र के किसान बड़ी संख्या में उपस्थित हुए। जगदीश पटेल राजोदा ने क्षेत्र के किसानों का आभार माना।
Sneha
central malwa school
Ebenezer
Back to top button