देवास

BSNL का पतन:  जमीन बेचकर शुरू करेगी देवास में 4G सेवा

देवास। भारतीय दूरसंचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) की स्थिति अब अत्यंत संकटमय हो गई है। सरकारी कंपनी जो कभी दूरसंचार क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती थी, अब निजी कंपनियों के सामने टिक नहीं पा रही है। जब निजी कंपनियाँ तेजी से 5G सेवाओं का विस्तार कर रही हैं, बीएसएनएल अब भी 4G सेवाओं की शुरुआत की घोषणा कर रही है। यह स्पष्ट रूप से कंपनी के पतन का संकेत है, जिसे ‘आत्मनिर्भर भारत योजना’ के नाम पर छुपाने का प्रयास किया जा रहा है।

हाल ही में, मध्यप्रदेश सर्किल के मुख्य महाप्रबंधक सुनील कुमार ने देवास में एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया। इस अवसर पर उन्होंने बीएसएनएल की अतिरिक्त जमीन की बिक्री के बारे में चर्चा की, जो कंपनी की गिरती आर्थिक स्थिति को और उजागर करती है। देवास के कालानी बाग दुर्गा माता मंदिर के पास स्थित 52 प्लॉट्स की बिक्री का निर्णय लिया गया है, जिसकी विभागीय रिजर्व प्राइस 39.29 करोड़ रुपये है।

सुनील कुमार ने बताया कि बीएसएनएल ने हाल ही में स्वदेशी निर्मित 4G उपकरण के साथ अपनी 4G सेवाएं मध्यप्रदेश में शुरू की हैं और जल्द ही पूरे देवास जिले में भी 4G सेवाएं लांच की जाएंगी। हालांकि, यह तब हो रहा है जब निजी कंपनियाँ पहले से ही 5G सेवाओं का विस्तार कर चुकी हैं, जिससे बीएसएनएल की प्रगति बेहद धीमी प्रतीत होती है।

यह कदम स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि बीएसएनएल अब अपनी संपत्तियों को बेचकर अपने खर्चों को पूरा करने की कोशिश कर रही है। यह स्थिति तब और चिंताजनक हो जाती है जब हम देखते हैं कि बीएसएनएल अपने उपभोक्ताओं को उच्च स्तरीय सेवाएँ प्रदान करने में असमर्थ है, जबकि निजी कंपनियाँ लगातार नए तकनीकी नवाचारों के माध्यम से आगे बढ़ रही हैं।

सुनील कुमार ने पत्रकार वार्ता के बाद बीएसएनएल के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ एक बैठक की और सेवाओं के सुचारू संचालन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इसके बाद पर्यावरण संरक्षण के अंतर्गत पौधारोपण का आयोजन भी किया गया।

san thome school
Sneha
Show More
Back to top button