देवास

पार्षद पं. दीपेश कानूनगो ने देवास से उज्जैन तक पैदल यात्रा कर 9 सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपा

देवास। नगर निगम में व्याप्त अनियमितताओं और जनहित के मुद्दों को उठाते हुए, पार्षद पं. दीपेश कानूनगो ने 28 फरवरी को देवास से उज्जैन तक पैदल यात्रा की। 2 मार्च को, उन्होंने उज्जैन में संभागायुक्त डॉ. संजय गोयल से मुलाकात कर उन्हें 9 सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में मुख्य मांगें:

  • संपत्तिकर निर्धारण के लिए सेटेलाईट सर्वे बंद करें: सेटेलाईट सर्वे में पारदर्शिता की कमी है, जिसके कारण आम जनता को परेशानी हो रही है।
  • खाली प्लाट धारकों से यूजर्स चार्जेस (कचरा शुल्क) माफ करें: जिन स्थानों पर कचरा गाड़ी नहीं पहुंचती, वहां से यह शुल्क नहीं लिया जाना चाहिए।
  • जलकर को आधा करें और पेयजल की गुणवत्ता में सुधार करें: नगर निगम द्वारा 30 दिन का जलकर लिया जाता है, लेकिन जल वितरण केवल 15 दिनों तक ही किया जाता है।
  • नगर निगम कर्मचारियों का वेतन समय पर दें: कर्मचारियों को वित्तीय परेशानी का सामना न करना पड़े, यह सुनिश्चित करें।
  • देवास सिटी बसों का संचालन शुरू करें:इन बसों का लोकार्पण तो किया गया है, लेकिन अभी तक इनका संचालन शुरू नहीं हुआ है।
  • नगर निगम कर्मचारियों के साथ अभद्र व्यवहार बंद करें: सत्ता पक्ष के परिषद सदस्यों द्वारा कर्मचारियों के साथ अभद्र व्यवहार किया जा रहा है।
  • सफाई कर्मियों की संख्या बढ़ाएं: देवास के क्षेत्रफल के हिसाब से सफाई कर्मियों की संख्या बहुत कम है।
  • भवनों और दुकानों के नामांतरण और नक्शा पास करने की प्रक्रिया को सरल बनाएं: वर्तमान में यह प्रक्रिया काफी जटिल और समय लेने वाली है।

संभागायुक्त डॉ. संजय गोयल ने सभी मांगों पर ध्यानपूर्वक विचार करने और उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

इस अवसर पर, कालूसिंह राजपूत, विजय चौहान, साधना प्रजापति, रूकमणी बैरागी, कलादेवी यादव, मीना अली, शमीम, हिना, ऋषभ यादव, दीपेश हरोड़े, राकेश मिश्रा, बंटी सरदार, रमेश देवड़ा, अनिकेत माली, मुकेश करोले, मनोज पाल, राजा ठाकुर, फारूक नागोरी, प्रथमसिंह पंवार, लोकेश गौड़, सुभाष पंवार और कई अन्य लोग उपस्थित थे।

Sneha
san thome school
Back to top button