अपराधदेवास

देवास महोत्सव मेले में झूले से गिरने से महिला घायल हुए थी, 18 दिन बाद मेला मैनेजर पर प्रकरण दर्ज



देवास लाइव। देवास में पिछले 1 महीने से देवास महोत्सव मेला के नाम पर आईआईटी ग्राउंड में प्राइवेट फर्म टोरा टोरा झूले द्वारा मेले का आयोजन किया जा रहा था। 7 मई की शाम झूला ऑपरेटर की लापरवाही से एक महिला झूले से गिरकर घायल हो गई थी। पुलिस ने घटना के 18 दिन बाद मेला मैनेजर और झूले ऑपरेटर पर प्रकरण दर्ज किया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक 7 मई को करीब 9:30 बजे फरियादी महिला आयुषी पति रवि निवासी ढांचा भवन देवास महोत्सव मेला में झूले से गिरकर घायल हो गई थी। औद्योगिक क्षेत्र थाना पुलिस ने मेला मैनेजर शैलेंद्र जाट और झूले के ऑपरेटर पर धारा 287 और 337 के तहत प्रकरण दर्ज किया है।

राजनीति के रसूख के चलते दादागिरी से चला मेला


उल्लेखनीय है कि आईआईटी ग्राउंड पर लगे देवास महोत्सव मेला के संचालकों पर आरोप लगता रहा कि यहां पर एंट्री फीस के नाम पर अवैध वसूली की जा रही थी। लोगों से पैसे लेकर उन्हें उसकी रसीद तक नहीं दी गई और टैक्स चोरी भी की गई। बच्चों की जिद के आगे मजबूर माता पिता मेले में जाकर लूटा हुआ सा महसूस कर रहे थे।

मेला संचालक ने देवास विधायक के पुत्र विक्रम सिंह पवार और पूर्व सभापति अंसार अहमद हाथी वाले के चित्र गेट पर लगा रखे थे। इस कारण भी मेले पर सवाल उठाने से लोग कतरा रहे थे। प्राइवेट मेला होने के बावजूद नगर निगम की फायर ब्रिगेड वहां पर सेवा में जुटी थी। मेले की विभिन्न परमिशन के विषय में भी आम चर्चा थी कि एक प्रतिष्ठित मीडिया समूह से जुड़े लोगों ने इसका ठेका लिया था।

central malwa school
Ebenezer
Sneha
Back to top button