देवासधर्म संकृति

जनसंख्या असंतुलन के भयावह परिणाम विषय पर गोष्ठी का आयोजन


देवास। संस्कृति संवर्धन न्यास देवास द्वारा सरस्वती विद्या मंदिर मुखर्जी नगर में जनसंख्या असंतुलन के भयावह परिणाम विषय पर प्रबुद्धजन गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी के मुख्य अतिथि प्रसिद्ध शिक्षाविद, राष्ट्रपति पुरस्कार सम्मानित शिक्षक राजकुमार चंदन एवं मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख कैलाश चन्द्र थे। गोष्ठी का शुभारंभ अतिथियों के द्वारा भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वल्लन कर किया।

मुख्य अतिथि श्री चंदन ने जनसंख्या वृद्धि के वैश्विक परिणामों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की। मुख्य वक्ता कैलाश चंद्र जी ने पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से भारत में जनसंख्या असंतुलन के विभिन्न बिंदुओं को प्रतिभागियों को बताया। आपने भारत मे जनगणना के इतिहास की जानकारी साझा की एवं वर्ष 2011 जनगणना के आंकड़ों से विभिन्न धर्मों में हुए जनसंख्या परिवर्तन को समझाया। उन्होंने जनगणना में ओआरपी के प्रावधान के भयावह परिणामों की भी चर्चा की। आपने बताया कि किस प्रकार जबरन मतांतरण के माध्यम से देश के अनेकों राज्यों में जनसंख्या संतुलन पूर्ण रूप से बदल गया है, जिसका परिणाम है कि पूर्वोत्तर के राज्यों में हिन्दू अल्पसंख्यक हो गया है। इस प्रकार की स्थिति कश्मीर में भी घटित हुई थी, जिसके दु:खद परिणाम आज हमारे सामने है। आभार अमरदेव सिंह ने माना।

Sneha
san thome school
Back to top button