देवासधर्म संकृति

उज्जैन के बाद अब ओंकारेश्वर व कुबेरेश्वर धाम की यात्रा कराएंगे प्रवेश अग्रवाल, महाकाल लोक में दिव्यांग वृद्ध को कंधे पर बैठाकर कराए दर्शन


देवास। सावन माह में समाजसेवी व कांग्रेस नेता प्रवेश अग्रवाल देवास के 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन के लिए लेकर जा रहे हैं। दर्शन के दौरान वीआईपी व्यवस्था और प्रवेश की सौम्य-सरल शैली दर्शनार्थियों को आकर्षित कर रही है। शुक्रवार को दर्शन के दौरान एक दिव्यांग वृद्ध को तो प्रवेश ने अपने कंधे पर बैठाकर दर्शन करवाए। यह द्श्य जिसने भी देखा वह भाव-विभोर हो उठा। आने वाले दिनों में प्रवेश ओंकारेश्वर व कुबेरेश्वर धाम की यात्रा भी निशुल्क करवाएंगे।


सोशल मीडिया और बैनर पर प्रवेश अग्रवाल के समर्थकों ने लिखा है “प्रवेश है तो विश्वास है” यह पंक्ति आज महाकाल दर्शन के दौरान प्रवेश ने फिर सार्थक कर दी। सावन माह के अंतिम पड़ाव में सेवा रथ एक बार फिर दर्शनार्थियों का जत्था लेकर वीआईपी दर्शन हेतु उज्जैन पहुंचा। दर्शन के दौरान एक दिव्यांग वृद्ध के पैरो में दिक्कत होते देख प्रवेश ने उन्हें अपने कंधों पर बैठाकर महाकाल लोक के दर्शन कराए और फिर गाड़ी में बैठाया। दर्शन कराते हुए प्रवेश श्रवण कुमार के समान लग रहे थे। प्रवेश की सरल और सौम्य छवि लोगों के दिलों में उतर गई। सभी दर्शनार्थी प्रवेश की इसी छवि को अपने हृदय में उतारते हुए स्वल्पाहार कर देवास हेतु रवाना हुए। वृद्धजनों ने प्रवेश को उनके 2 सितंबर के जन्मदिवस की अग्रिम बधाई के साथ विजयी भव: का आशीर्वाद दिया। इस अवसर पर महाकाल लोक में जयश्री महाकाल और प्रवेश है तो विश्वास है के जयकारे गूंज उठे।


प्रवेश ने भी जन्मदिवस के अवसर पर वृद्धजनों से यह वादा किया कि वे जनवरी माह से कुबरेश्वर धाम सीहोर एवं ओंकारेश्वर के लिए निःशुल्क वाहन की व्यवस्था करेंगे। देवास में प्रवेश का जन्मदिन उनके समर्थकों द्वारा 3 सितंबर को मनाया जाएगा। जन्म दिवस के भव्य कार्यक्रम में व्यवस्था की विधिवत घोषणा प्रवेश द्वारा की जाएगी।

Sneha
ias academy
little cry
sandipani
san thome school
Back to top button